कुवैत सरकार ने करीब 80,000 घरेलू कामगारों को पांच महीने में कुवैत में वापस लाने की बात कही

  • घरेलू कामगारों सहित हजारों प्रवासी विदेशों में फंसे हुए हैं

सरकार ने करीब 80,000 घरेलू कामगारों को पांच महीने में कुवैत में वापस लाने की उम्मीद की है। बता दें कुवैत में दर्जनों देशों के साथ उड़ानों पर प्रतिबंध की घोषणा के बाद घरेलू कामगारों सहित हजारों प्रवासी विदेशों में फंसे हुए हैं।

कुवैत सरकार का बड़ा फैसला : भारतीय कामगारों को मिलेगा 15% कोटा, 8.5 लाख को  लौटना पड़ सकता है वापस - uttamhindu

  • उनकी जांच करने के लिए कड़े स्वास्थ्य उपायों भी इसमें शामिल

कुवैत में अधिकांश घरेलू कामगार भारत, फिलीपींस और श्रीलंका जैसे प्रतिबंधित देशों से हैं। मंत्रालय न ने कहा घरेलू कामगारों की वापसी के संबंध में किए गए सुझावों में दो उड़ानों में प्रतिदिन 600 लोगो के आगमन शामिल हैं, यही नहीं  उनके आने से पहले और उनकी जांच करने के लिए कड़े स्वास्थ्य उपायों भी इसमें शामिल हैं।

कुवैत सरकार का बड़ा फैसला : भारतीय कामगारों को मिलेगा 15% कोटा, 8.5 लाख को  लौटना पड़ सकता है वापस - uttamhindu

  • दो सप्ताह तक संगरोध में बिताने के बाद एक अन्य पीसीआर करना शामिल

सूत्रों ने बताया कि कुवैत में उड़ान भरने से पहले श्रमिकों के लिए पीसीआर परीक्षण करवाना होगा साथ ही आगमन पर एक चिकित्सा परीक्षण करना और दो सप्ताह तक संगरोध में बिताने के बाद एक अन्य पीसीआर करना शामिल है।

Leave a Reply