दुबई से भारतीय प्रवासी को भेजा गया कार्गो विमान से भारत, AIRPORT से सीधा जाएगा घर, माता पिता अंतिम चेहरा तक न देख पाए

भारतीय युगल के लिए दुबई में शायद सबसे बुरा दिन था.  उनके युवा बेटे को कैंसर और उसकी मृ त्युहो गई. क्योंकि अभी यातायात पर बड़ा प्रतिबंध है इसके वजह से वाह माता पिता अपने बच्चे का अंतिम चेहरा नहीं देख पाए.  इसी बीच मृ त्युके उपरांत उस बच्चे को कार्गो विमान के जरिए भारत के kocchi शहर में बुधवार को भेज दिया.

उस माता-पिता के बच्चे को महज 16 साल की उम्र में कैंसर हो गया था और उसका इलाज अमेरिकन हॉस्पिटल दुबई में चल रहा था.  जबल महज 9 वर्ष की उम्र से अपने जीवन से संघर्ष कर रहा था उसके एक पैर खत्म हो गए थे फिर भी वह सामान्य जीवन व्हील चेयर के माध्यम से बिता रहने की कोशिश कर रहा था.

लेकिन कुछ ही वक्त बात उसके दोनों पैर कैंसर ग्रस्त हो गए और उसे जीवन से हाथ होना पड़ा.  दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले मिलेनियम स्कूल के विद्यार्थी ने अपने सहपाठियों के साथ अच्छे बर्ताव का साथ छोड़ा है और उनके शिक्षकों के अनुसार  वह काफी shalin विद्यार्थियों था.

बच्चे के पार्थिव शरीर को एयरपोर्ट पर  उनके परिजनों के हवाले किया जाएगा जहां से वह अपने घर के लिए जा सकेगा.

Leave a Reply