प्रवासी कामगारों की 5 घंटे में गिरफ़्तारी, रोड बंद कर किया गया ऑपरेशन, बिना certificate के काम सम्भव नही

अभी अभी कुवैत से बहुत बड़ी खबर आ रही है जहाँ पर सौ से ज्यादा कामगारों को गलत तरीके से प्रोजेक्ट में शामिल पाया गया। पब्लिक अथॉरिटी मैनपावर (PAM) ने एक सरप्राइज इंस्पेक्शन कैंपेन की शरुआत किया था जिसमे बहुत से कामगारों को पकड़ा जो की उनकालीफिएड और इंकंपेटेंट लोग भी थे और साथ ही साथ वे वाइटल प्रोजेक्ट में काम कर रहे थे और ये लोग एयरपोर्ट प्रोजेक्ट में भी शामिल थे।

बड़े पैमाने पर ऐसे काम करने वाले लोगों को गिरफ़्तार कर देश से निकालने का आदेश किया गया हैं, साथ ही क़ाफ़िलों के ऊपर भी कार्यवाई करने का आदेश जारी किया गया हैं. जिस से कुवैत में स्थिति थोड़ी नाज़ुक हो गयी हैं ख़ासकर मज़दूर बजार में.

कुवैत के Commision ने कंपेन के दौरान बहुत सारे लोगों को महज़ पांच घंटे के ऑपरेशन के दौरान पकड़ा और साथ ही उन्हें इस काम के लिए सड़कों को जाम/बंद रखा गया।कंपेन में tripartite commision टीम की मदद अल राइ ने किया ।यह सारे काम को मोहम्मद अल धफिरी के निगरानी में किया गया जो की चेयरमैन है जॉइंट कमिटी के अल राइ में।

यह बेहद ही दुर्भाग्य की बात है कि कुवैत में इस बड़े पैमाने पर श्रम क़ानून का उलंघन हो रहा था. जाँच में यह भी पता चला की उल्लंघनकर्ता को-आपरेटिव समाज के द्वारा स्पॉन्सर किए गये थे. जिसमें बहुत सारे प्रवासी कामगारों के पास Article 20 द्वारा मान्यता प्राप्त Residence Permit भी था. कुछ कामगार अपने स्पॉन्सर के लिए न बल्कि किसी और के लिए कार्य करते हुए भी पकड़े गए.

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *