भारतीय कामगार को वापस बुलाने के लिए 4 AIRINDIA भेजा गया, केवल -VE जाँच वालों को लाया जाएगा

खाड़ी देश में फंसे करीब 2000 भारतीय नागरिकों को शीघ्र ही भारत लाया जाएगा। इनमें से 300 भारतीयों के खून का नमूना -ब्लड सैंपल- भारत आ रहा है। इन सैंपलों की जांच की जाएगी। यदि उनके से सभी कोरोनावायरस से निगेटिव् पाए जाएंगे तो उन्हें भारत लाने का इंतजाम किया जाएगा।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शुक्रवार को यहां बताया कि ईरान में फंसे सभी भारतीयों को यहां लाया जाएगा जबकि भारत में रह रहे सभी ईरानी नागरिकों को वापस ईरान भेजा जाएगा। इस बारे में भारत की ईरानी अधिकारियों से बात चल रही है। इसी के तहत अगले 24 घंटे में ईरानी विमानन कंपनी महान एयर का एक हवाई जहाज दिल्ली में उतरेगा, जिसमें 300 भारतीयों का ब्लड सैंपल लाया जाएगा। इनकी जांच की जाएगी ताकि पता चल सके कौन कौन कोरोनावायरस से संक्रमित हुए हैं। जो भी व्यक्ति कोरोनावायरस से संक्रमित नहीं होंगे, उन्हें भारत लाया जाएगा।

उन्होंने बताया कि ईरान से आने वाला वहां से भारतीय नागरिकों को दिल्ली और मुंबई लाएगा। दोनों शहरों में दो-दो फ्लाइट आएंगी। वहां से आने वाले जहाज में भारतीय नागरिक आएंगे जबकि यहां से वापस जाने वाले जहाज में भारत में रह रहे ईरानी नागरिक वहां भेजे जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि ईरान में करीब 2000 भारतीय नागरिक फंसे हैं, जिनमें से अधिकतर व्यक्ति कश्मीर में कारगिल इलाके के रहने वाले हैं। वे धार्मिक यात्रा पर ईरान गए हुए थे। इसी बीच कोरोनावायरस के प्रकोप की वजह से वहां फंस गए हैं। वहां भारतीय डॉक्टरों के एक दल को पहले ही भेजा जा चुका है ताकि जहाज पर सवार होने से पहले उनकी अच्छी तरह से जांच की जा सके।

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply