भारत में मुस्लिम जमात के बाद, दुबई से आए इस हिंदू ने (26 हज़ार) लोगों में डाला कोरोना वाइरस संकट

  • दुबई से भारत लौटे कामगार ने तेरहवी का भोज 1500 लोगों को दिया
  • ख़ुद और पत्नी दोनो थे कोरोनाग्रसित
  • दर्जन भर की +ve आइ रिपोर्ट
  • अब आज रविवार को अपडेट के अनुसार 26000 लोगों को घर में आइसलेट किया गया, क्यूँकि ये सब भोज के वजह से सम्पर्क में आए थे.

 
मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर तेजी से फैल रहा है. अब तक जहां इस महामारी के सबसे ज्यादा मामले इंदौर (Indore) से सामने आ रहे थे, वहीं अब मुरैना सुर्खियों में आ गया है. मुरैना (Morena) जिले में दो दिनों के भीतर ही 12 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं. इससे दहशत फैल गई है. दरअसल, बीते 17 मार्च को दुबई में वेटर का काम करने वाला युवक अपनी दादी के श्राद्ध में शामिल होने मुरैना आया था.
COVID-19: मुरैना में 1500 लोग शामिल हुए थे मृत्युभोज में, जांच में 12 निकले कोरोना पॉजिटिव
20 मार्च को हुए तेरहवीं में एक हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए थे. इतनी बड़ी संख्या में लोगों के जमा होने से प्रशासन में हड़कंप मच गया. प्रशासन इन लोगों की पहचान कर जांच कर रहा है. आपको बता दें कि मुरैना में 12 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मिलने के बाद प्रदेश में अब संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर लगभग 200 के आसपास पहुंच गई है. इनमें से अब तक 11 की मौ”:त हो चुकी है.
 
प्रशासन की लापरवाही, ट्रेवल हिस्ट्री की नहीं हुई थी जांच
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर जहां पूरे देश में लॉकडाउन है, वहीं मुरैना जिला प्रशासन इससे बेखबर रहा. यही वजह रही कि एक साथ 12 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. बताया गया कि सतर्कता के तमाम दावों के बावजूद मुरैना जिला प्रशासन ने दुबई से आने वाले युवक की ट्रेवल हिस्ट्री की जांच नहीं की थी. इसके बाद युवक और उसके परिजनों ने श्राद्ध के बहाने हजार से ज्यादा लोगों को न्योता दिया, प्रशासन को इसकी भी जानकारी नहीं मिल पाई.

आखिरकार जब युवक की पत्नी की तबीयत खराब हुई और उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, तब उसके दुबई से आने का खुलासा हुई. युवक के दुबई से आने की जानकारी मिलने के बाद प्रशासन हरकत में आया और पति-पत्नी की जांच कराई गई, जिसमें दोनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए.
वार्ड में पाबंदी, 1300 लोगों की हुई जांच
दुबई से लौटे युवक और उसकी पत्नी के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रशासन ने उसके परिवार के अन्य सदस्यों की जांच की. साथ ही युवक मुरैना में जहां रहता है, उस वार्ड 47 में रहने वाले 1300 अन्य घरों की भी जांच की गई. प्रशासन ने जांच-पड़ताल के बाद युवक के 26 परिजनों को जांच के बाद आइसोलेशन में भेज दिया. इनमें से 10 लोगों की रिपोर्ट में कोरोना पॉजिटिव होने का मामला सामने आया है. अन्य लोगों की रिपोर्ट आना शेष है.

खास बात यह है कि इन सभी लोगों का इलाज कर रहे 4 डॉक्टरों की भी जांच की गई है, जिनकी रिपोर्ट नहीं आई है. इतनी बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव केस के सामने आने के बाद प्रशासन ने एक लिस्ट जारी की है. साथ ही लोगों से अपील की है कि जिन लोगों के नाम इस लिस्ट में शामिल हैं, वे भी जांच करा लें
 
 

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *