मिल गयी हरी झंडी, आ रही हैं एक और AIR INDIA FLIGHT, भारतीय कामगारों और बच्चों को ले जाएगी भारत

कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द होने के कारण दुनिया भर में कई जगहों पर लोग फंस गए हैं. मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर में हवाई अड्डे पर केरल (Kerala) के कम से कम 300 कामगार और बच्चे लोग फंसे हुए हैं. ये लोग तीन देशों की यात्रा कर मलेशिया पहुंचे थे, जहां से इन्हें वापस भारत आ था, लेकिन उड़ान रद्द होने के कारण हवाई अड्डे पर ही फंसे रह गए.
 


 
 
 
केरल के ये लोग फिलिपींस (Phillipins), कंबोडिया (Combodia) और मलेशिया (Malaysia) की यात्रा कर हवाई अड्डे पर पहुंचे हैं. इनमें कई छात्र भी शामिल हैं. ताज़ा अपडेट के मुताबिक़ भारत सरकार ने इन छात्रों को वापस लाने के लिए फ्लाइट्स भेज दी हैं.
 

 
विदेश मंत्री एस जयशंकर (Foreign Minister S Jaishankar) ने ट्वीट कर जानकारी दी कि- “कुआलालंपुर हवाई अड्डे पर वापस आने की प्रतीक्षा कर रहे भारतीय छात्रों और अन्य यात्रियों की कठिन स्थिति की सराहना करते हैं. हमने अब आपके लिए दिल्ली और विशाखापत्तनम के लिए एयर एशिया की उड़ानों को मंजूरी दे दी है.”
उन्होंने कहा कि ये मुश्किल समय है और आप सभी को एहतियात बरतना चाहिए. कृपया एयरलाइन के संपर्क में रहें.

एयरपोर्ट पर फंसी एक छात्रा कहती हैं, “हम फिलिपींस में पढ़ाई कर रहे हैं. कई उड़ानें रद्द हो गई हैं और हम कुछ घंटों से यहां फंसे हुए हैं. हम फिलिपींस वापस नहीं जा सकते और न ही भारत सरकार हमें लाने को तैयार है. हम भारतीय अधिकारियों से संपर्क की कोशिश कर रहे हैं. हम में से कोई भी फिलिपींस वापस नहीं जाना चाहता.”
वीडियो में कुछ लोगों ने कहा कि बोर्डिंग पास मिलने के बाद उन्हें बताया गया कि उड़ान रद्द कर दी गई है. यात्रियों ने कहा केरल, बेंगलुरू और चेन्नई को जाने वाली उड़ानें रद्द कर दी गई हैं.
 

 
हालांकि राज्यसभा सदस्य जोस के मणि ने जानकारी दी थी कि वह भारतीय अधिकारियों के संपर्क में हैं. एक अन्य वीडियो में एक महिला रोते हुए अधिकारियों से उन्हें इटली से बाहर निकालने की गुहार लगा रही है.
महिला ने कहा, “हमें केवल अपनी राज्य और केन्द्र सरकार से उम्मीद कर सकते हैं. हम यह जानना चाहते हैं कि क्या हम वापस आ पाएंगे?”

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *