यूएई में कोरोना से पीड़ित एक गर्भवती नर्स ने ICU में एक शिशु को दिया जन्म

 

पूरी खबर एक नजर

  • अजमन में जब एक गर्भवती नर्स को जब कोनिड-19 का पता चला तब उसकी स्थिती इतनी जटिल थी कि उसे ICU में ही बच्चे को जन्म देना पड़ा।
  • नर्स प्रियंका और ुसकी बच्ची दोनो ही अब खतरे सा बाहर है। 
  • सबको आभार व्यक्त करने के रूप में प्रियंका ने अपनी बच्ची का नाम “प्रार्थना” रखा है। 

अजमन में  एक गर्भवती नर्स  अपने बच्चे को जन्म देने से कुछ ही दिन दूर थी। जब उसे कोविड-19 का पता चला था तब उसकी स्थिति इतनी जटिल हो गई उसे आईसीयू में रहने के दौरान ही बच्चे को जन्म देना पड़ा। नार्स ने कोविड-19 के खिलाफ एक फ्रंटलाइन सुपर हीरो और उत्तरजीवी के रूप में अपनी लड़ाई को याद किया। थंबे हॉस्पिटल अजमान जी नर्स प्रियंका सिर्फ आभारी महसूस कर रही थी।  और उसका बच्चा अब बिल्कुल ठीक है वह वायरस से उबर चुकी है और उसका नवजात किसी भी तरह से प्रभावित नहीं था।

नर्स प्रियंका ने यह साझा किया कि वह अस्पताल में काम किया करती थी जब उसे सांस लेने में तकलीफ और बुखार का अनुभव होने लगा था  जिसके बाद उसे कोविड-19 के लिए सकारात्मक परीक्षण किया गया था।  प्रियंका अस्पताल में भर्ती थी और उन्हें 2 सप्ताह के लिए वेंटिलेटर पर रखा गया था।  उन्होंने बताया कि उनकी स्थिति इतनी जटिल हो गई थी कि उनका गर्भावस्था  35 वें सप्ताह में था। जैसे ही उनकी स्थिति खराब हुई और उन्हें आईसीयू में स्थानांतरित कर दिया गया डॉक्टरों ने फैसला किया कि कार्यवाही का सबसे अच्छा कोर्स c-section और बचाव करना होगा और यह एक शानदार फैसला साबित हुआ। 

की बच्ची संक्रमण से अप्रभावित थी उसे अस्पताल के  एनआईसीयू में एक महीना बिताना पड़ा क्योंकि प्रियंका ने वायरस से लड़ाई की उनके पति सुमेश को महीने भर काम करना पड़ता था क्योंकि वह दिन रात प्रार्थना करते थे और अपनी पत्नी के अस्पताल के बिस्तर से अपनी बेटी के एनआईसीयू बेसिनेट मे शिफ्ट हो जाते थे। अंत में उनके सभी रिश्तेदारों और दोस्तों की प्रार्थनाओं के लिए धन्यवाद दिया।  प्रियंका ने लगातार सुधार दिखाना शुरू किया और अंततः नकारात्मक परीक्षण किया। दंपति ने उनका नाम प्रेरणा रखा है। उनकी मातृभाषा,मलयालम में इसका अर्थ है, “प्रार्थना”। उन्हें प्राप्त सभी प्रार्थनाओं और समर्थन के लिए आभार की निशानी के रुप में यह नाम रखा। 

 अस्पताल ने हाल ही में प्रियंका को सम्मानित करने के लिए एक विशेष समारोह आयोजित किया है और आधिकारिक तौर पर अपने आखिरी कोविड-19 रोगी को विदाई दी। 

Leave a Reply