रात तक 250 की मौ'त तो रात 1 बजे से EMERGENCY घोषित, ऐलान होते ही पूरी दुनिया में अलार्म

अमेरिका में कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते अब तक 41 लोगों की मौ”त हो चुकी है.
 
वाशिंगटन: दुनिया भर में कहर मचाने वाले कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए अमेरिका ने नेशनल इमरजेंसी घोषित कर दी है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आज अमेरिकी में इमरजेंसी का ऐलान किया. भारतीयआज रात 1 बजे ट्रंप ने इसकी घोषणा की. ट्रंप ने आज रात कोरोना संक्रमण के खतरे को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने इस दौरान संक्रमण से लड़ने के लिए अमेरिका द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में बताया. राष्ट्रपति ट्रंप ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए राज्यों को 50 बिलियन डॉलर की मदद दी गई.

बता दें कि अमेरिका में कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते अब तक 41 लोगों की मौ=+त हो चुकी है. जबकि ताजा अपडेट आने तक अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण को 65 नए केस सामने आए हैं.
 
 कोरोना वायरस (Corona Virus) महामारी से जूझ रहे इटली (Italy) में इस वायरस के संक्रमण से शुक्रवार को 250 लोगों की मौ)(त हो गई. अधिकारिक आंकड़ों के अनुसार देश में इस वायरस से एक दिन में होने वाली की यह सर्वाधिक संख्या है. पिछले 24 घंटों में इटली में 250 मौ)(तें दर्ज की गई हैं, जिससे मृतकों की कुल संख्या 1,266 हो गई. साथ ही, देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 17,660 हो गई है.
24 घंटे में फ्रांस में 18 लोगों की मौ+त यूरोपीय देश फ्रांस में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण 18 लोगों की मौ{}त होने से उस देश में मृतकों की कुल संख्या 79 पहुंच गई. स्वास्थ्य मंत्री ओलिवर वेरन ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. इस बीच, लंदन से प्राप्त एक खबर के मुताबिक कोरोना वायरस से बढ़ते खतरे को देखते हुए लंदन मैराथन को चार अक्टूबर तक के लिए टाल दिया गया है.
 
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने आयरलैंड के प्रधानमंत्री लियो वराडकर से हाथ मिलाने के बजाय नमस्ते कहा. वैसे पश्चिमी देशों में हाथ मिलाकर अभिवादन किया जाता है लेकिन कोरोना वायरस की महामारी से बचने के लिए वहां के लोगों ने अब हाथ मिलाना बंद कर दिया है. दरअसल भारतीय संस्कृति में नमस्ते कहकर अभिवादन करते हैं और कोरोना के संक्रमण के डर से आज नमस्ते दुनियाभर में सबसे लोकप्रिय बन गया है.
 

 
मीडिया ने जब ट्रंप से पूछा कि उन्होंने हाथ मिलाने के बजाय नमस्ते क्यों किया तो उन्होंने पिछले महीने की अपनी भारत यात्रा को याद दिलाते हुए और कहा, “मैं अभी इंडिया से वापस आया हूं और मैंने वहां किसी से भी हाथ नहीं मिलाया. नमस्ते करना बहुत आसान होता है. आप भी नमस्ते करना बहुत पसंद करेंगे. भारत के लोग इस मामले में काफी आगे हैं.” बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप और आयरलैंड के प्रधानमंत्री लियो वराडकर ने एक साथ नमस्ते किया.

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply