सऊदी से भारत आए कामगार ने किया आत्महत्या, जेद्दा से बिहार आया था विक्की

सऊदी अरब से बोधगया पहुंचे युवक ने क्वारंटाइन सेंटर के छत से कूदकर खुदकुशी कर ली। यह घटना बोधगया निगमा मोनेस्ट्री क्वारंटाइन सेंटर पर हुई। शुक्रवार की अहले सुबह पुलिस को इसकी सूचना देकर बताया गया कि क्वारंटाइन सेंटर में रखे गए एक युवक ने सेंटर की छत से कूदकर आत्महत्या कर लिया। इस घटना के बाद आसपास हड़कंप मच गया।

खुदकुशी करने वाला युवक गोपालगंज, छतिया गांव का रहने वाला विक्की कुमार बताया गया। वह सऊदी अरब के जद्दा से 3 जून को गया पहुंचा था और उसे बोधगया निगमा मोनेस्ट्री में बने क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था।मौके पर पहुंचकर पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमा‌र्ट्म के लिए गया मेडिकल भेज दिया और पूरे मामले की पड़ताल में पुलिस जुटी है।

आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका और न हीं उसके साथ रह रहे साथियों ने इस संबंध में पुलिस को कोई जानकारी दी है। इस मामले में पुलिस ने क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे कई लोगों से पूछताछ की। इस मामले में पुलिस फिलहाल कुछ नहीं बोल रही है। बोधगया थानेदार मोहन प्रसाद सिंह ने कहा कि युवक ने खुदकुशी करने का फैसला क्यों लिया। इसका कारण पता नहीं चल सका हैं। पड़ताल में पता चला है कि युवक पारिवारिक टेंशन झेल रहा था।

कमिश्नर ने जांच का आदेश दिया

मगध रेंज कमिश्नर कमिश्नर असंगबा चुबा आओ ने निगमा मोनेस्ट्री क्वारंटाइन सेंटर पर युवक के खुदकुशी करने की घटना को गंभीरता से लिया है। पुलिस को पूरे घटनाक्रम की जांच का आदेश दिया है। इसके बाद पुलिस के वरीय अधिकारी जांच में जुट गए हैं। आयुक्त कार्यालय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करके कहा है कोविड-19 के कारण लॉकडाउन के दौरान विभिन्न देशों में फंसे भारतीय प्रवासियों,जो अपने वतन वापस लौटने को इच्छुक हैं, उन्हें वंदे भारत मिशन के तहत हवाई जहाज लाया जा रहा है। इस मिशन के तहत बिहार के लिए लैंडिंग पॉइंट गया एयरपोर्ट को बनाया गया है।

आत्म हत्या करने वाला युवक विक्की कुमार सऊदी अरब के जद्दा से 3 जून को गया पहुंचा था। गृह मंत्रालय, भारत सरकार के गाइडलाइन के तय मानक प्रक्रिया के अनुरूप मेडिकल स्क्रीनिंग किया गया। उसके बाद उसे निगमा मोनेस्ट्री में क्वारंटाइन किया गया था। इसके अलावे वहां सैकड़ों विदेशी क्वॉरेंटाइन में हैं। जिनके लिए वहां आवासन एवं भोजन की सभी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। बावजूद 2 दिनों के अंदर निगमा मोनेस्ट्री छत से कूदकर जान देने की घटना प्रथम दृष्टया उसकी निजी समस्या से संबंधित प्रतीत हो रही है। पूरी घटना की जांच चल रही है।

निगमा मोनेस्ट्री क्वारंटाइन सेंटर पर विदेशों आए अप्रवासी भारतीयों ने कहा सेंटर पर अव्यवस्था का भरमार है, जो हमलोगों के परेशानी की सबब बनी है।  एक ही कमरे में कई लोगों को रखा गया। कमरे में सीमित पंखा है। गर्मी परेशान कर रही है। जिससे संक्रमण का डर बढ़ा है। खाने के लिए लंबी लाइन लगती। इससे अच्छा तो हमलोगों को अपने अपने जिले के क्वारंटाइन सेंटर पर भेज दिया जाय। कम से कम वहां कुछ तो सकून मिलेगा।

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply