24 वर्षीय इंजीनियर की शारजाह में एक बिल्डिंग से गिर कर हुई मौत

 

एक नजर पूरी खबर

  • शारजाह में 31 जुलाई को एक इमारत की छठी बिल्डिंग से गिरकर एक भारतीय युवक की मौत हो गई।
  • वह अल धिद की एक इमारत में रहता था। जहां से वह मौत के मुंह में चला गया।
  • पुलिस ने इस घटना की छान-बीन शुरु कर दी है और शव को पोस्टमोरटम के लिए फॉरेंसिक लेब भेज दिया है।

शारजाह में 31 जुलाई को एक इमारत की छठी बिल्डिंग से गिरकर एक भारतीय युवक की मौत हो गई। इसकी जानकारी सामाजिक कार्यकर्ताओं और उसके कमरे के लोगों ने दी। 24 वर्षीय सुमेश की पहचान दक्षिण भारतीय राज्य केरल से हुई है।

वह अल धिद की एक इमारत में रहता था। जहां से वह मौत के मुंह में चला गया। मृत्यु के कुछ मिनट पहले वह फोन पर किसी से बात कर रहा था। बता दें कि सुमेश एक साल पहले यूएई में आया था और एक इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर था। सुमेश शारजाह के मुवालेह क्षेत्र में एक डिजाइनर के रुप में काम कर रहा था। उसके कमरे के सदस्यों ने कहा कि सुमेश को कोई व्यक्तिगत मुद्दा परेशान कर रहा था।

एक रुम मेट ने बताया कि ईद अल अधा था और उनके रसोइए ने उन सभी के लिए बिरयानी बनाई थी। वह सभी आपस में मस्ती मजाक कर रहे थे और अच्छा समय बिता रहे थे। साथ ही रुम मेट ने बतया कि, “मैने कुछ समय के लिए महसूस किया कि, कोई बात सुमेश को परेसान कर रही थी और मैने उससे इस बारे में पूछा भी था, लेकिन उसने नहीं बताया।“

एक अन्य रुममेट ने बता कि, सुमेश घटना वाले दिन दुबई में था। “ मैं शाम 7 बजे फ्लैट पर लौटा और सुमेश से बात की। मैं उसे हमेशा एक दयालु व्यक्ति के रुप में याद करुंगा। जब भी उसका मूड ऑफ होता था मै उससे समस्या के बारे में पूछता तो वह कहता था कि वह खुद हल कर लेगा। वह अपनी किसी भी समस्या को साझा करने से इनकार कर देता था।“

एक अन्य कमरे के साथी, शान केएफ ने बताया कि सुमेश को अपनी वार्षिक छुट्टी के लिए भारत की यात्री करनी थी, लेकिन कोविड-19 के कारण नहीं कर सका। बता दें कि फिलहाल पुलिस ने इस घटना की छान-बीन शुरु कर दी है और शव को पोस्टमोरटम के लिए फॉरेंसिक लेब भेज दिया है।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *