सऊदी अरब में 450 भारतीय कामगार माँग रहे हैं भीख, न दूतावास, न मोदी माया कर रहा हैं काम

GulfHindi Podcast

धनबाद,सऊदी अरब में 450 भारतीय श्रमिक सड़क पर भीख मांग रहे है। जिसमे तेेलंगना आंध्र प्रदेश उप्र कश्मीर बिहार दिल्ली राजस्थान कर्णाटक हरियाणा पंजाब और महाराष्ट्र के अधिकांश श्रमिक के कार्य की परमिट खतम हो गयी थी। जिससे अब उन्हें वहां भीख मांगने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

 

बता दे इस काम में उप्र के 39 बिहार के 10 तेेलंगना के पांच महाराष्ट्र जम्मू कश्मीर और कर्नाटक के चार चार और आंध्रा प्रदेश के एक व्यक्ति शामिल है।जबकि 2.4 लाख भारतीय नागरिकों ने भारत लौटने के लिए पंजीकरण किया था, केवल 40,000 ही वापस आ पाए हैं।

महाराष्ट्र सरकार उठाएगी पैसों की कमी से जूझ रहे प्रवासी कामगारों की यात्रा का खर्च | maharashtra - News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट ...

कार्यकर्त्ता के अनुसार उनका कोई अपराध नहीं है बस उनकी नौकरी खतम होने के कारन उन्हें भींख मांगना पड़ रहा है। सामाजिक कार्यकर्ता और एमबीटी नेता अमजद उल्लाह खान ने कहा कि स्थानीय अधिकारियों ने पता लगाने के बाद श्रमिकों को बंदी केंद्रों में स्थानांतरित कर दिया है।

Madhya Pradesh Asangathit Mazdoor Kalyan Yojana Latest News - करोड़ों मजदूरों की जेब में मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस जैसा फोटो युक्त कार्ड | Patrika News

एक कार्यकर्त्ता अमजद ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री एस जयशंकर, नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी और सऊदी अरब में भारतीय राजदूत औसाफ सईद को पत्र लिखा है, उनके नोटिस में 450 भारतीय श्रमिकों की दुर्दशा को सामने लाया गया और केंद्र से श्रमिकों की मदद करने का आग्रह किया।17 सितंबर को, प्रवासी भारतीय सहायता केंद्र (PBSK), विदेश मंत्रालय (MEA) की एक हेल्पलाइन, ट्विटर पर Amjed उल्लाह खान को जवाब दिया और सभी प्रवासियों, उनके संपर्क नंबरों और उनके परिवारों के संपर्क नंबरों का विवरण मांगा। ताकि उनकी मदद की जा सके।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copying content may lead to Jail, Vikas and Aslam is in Delhi and MP Jails
%d bloggers like this: