विदेश में दोस्त ने की दोस्त की ह’त्या, फिर श’व का लगाया ठिकाने, पुलिस ने इस तरह खोली पोल

आज कोर्ट ऑफ फर्स्ट इंस्टेंस ने सुनवाई के दौरान एक ऐसे हत्याकांड़ का खुलासा हुआ, जिसे सुनने वालों की दोस्ती शब्द से भरोसा उठ गया। दरअसल एक प्रवासी ने पहले अपने एक साथी को मौत के घाट उतारा और फिर दूसरे दोस्त की मदद से शव को दफना दिया।

सरकारी prosecution रिकॉर्ड के अनुसार यह मामला पैसों के लेन-देन से जुड़ा है, जिसके मुताबिक एक  40 वर्षीय एशियाई व्यक्ति ने कुछ पैसों के लिए अपने दोस्त को मौत की नींद सुलाने का फैसला कर लिया और लंबी साजिश के तहत उसे मार डाला। बता दे यह मामला बीते साल के 13 अक्टूबर का है। इस दौरान एक दोस्त ने चाकू से कई वार करते हुए अपने दूसरे साथी को मार डाला। इसके बाद उसने अपने एक 30 साल के साथ की मदद से उसके शव को दफना दिया।

वहीं इस मामले के खुलासे के बाद दोनों अपराधियों को बुर दुबई पुलिस स्टेशन में हिरासत में बंद कर दिया गया और इसके बाद पुलिस ने इस पूरे मामले की तफ्तीश से जांच शुरू कर दी।

वहीं इस मामले की जांच कर रहे एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्हें पीड़ित के फरार होने के बारे में एक रिपोर्ट मिली थी। “हमें पता चला कि मुख्य आरोपी पीड़िता से मिलने वाला आखिरी व्यक्ति था। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर के पूछताछ की, तो उसने स्वीकार किया कि पीड़िता ने पैसे के विवाद में एक व्यक्ति की हत्या कर दी थी और इसके बाद शव को ठिकाने लगाकर वह मौके से फरार हो गया।

मुख्य आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बताया कि कैसे उसने पीड़िता की गर्दन के पीछे चाकू घोंप कर उसकी हत्या की और फिर दोस्त के साथ मिलकर उसके शव को ठिकाने लगाया।

इस दौरान जांच अधिकारी ने कहा, “उनका साथी उस समय उनके साथ था। वे शव को शारजाह के एक इलाके में ले गए जहां उन्होंने एक कब्र खोदी और उसे दफन कर दिया। अधिकारी ने कहा कि इस हत्याकांड को पूरी साजिश के तहत अंजाम दिया गया, इसके लिए हत्यारे ने एक दिन पहले चाकू भी खरीदा था,” ।

वहीं इस मामले में शामिल दूसरे साथी ने पुलिस को बताया कि वह छुरा घोंपने के समय मुख्य आरोपी के साथ था। “उसने कहा कि मैने पुलिस को हत्या की सूचना इसलिए नहीं दी क्योंकि मैं खुद भी अपराध में शामिल था। मालूम हो कि शव की जांच करने वाले फोरेंसिक डॉक्टर ने कहा कि चोट बहुत गहरी थी। इसके चलते व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई। फिलहाल इस मामले में कोर्ट ने अब तक सजा का ऐलान नहीं किया है। वहीं मामले की अगली सुनवाई 13 अगस्त को होगी।

Leave a Reply