AC चलाते हैं तो ध्यान दे, AC चलने से 9 लोगों को हुआ कोरोना, RESEARCH में बात आ गयी सामने

इस बात पर लंबे वक्त से चर्चा चल रही है कि क्या एयर कंडीशनर (Air Conditioner) से कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण तेजी से फैलता है? इस बारे में अब एक स्टडी ने नया खुलासा किया है. स्टडी से पता चला है कि एयर कंडीशनर की वजह से एक संक्रमित मरीज से कोरोना का संक्रमण 9 लोगों को हुआ. चीन एक रेस्टोरेंट में ये मामला सामने आया है.
 

यहां डिनर पर कुछ लोग बैठे थे. उनमें एक बिना लक्षण वाला कोरोना संक्रमित भी था. रेस्टोरेंट में चल रहे एयर कंडीशनर की वजह से वायरस का संक्रमण 9 लोगों में फैला. हालांकि रेस्टोरेंट में मौजूद बाकी के 81 लोग संक्रमण की चपेट में आने से बच गए.
 
इस नई स्टडी को इमर्जिंग इंफेक्सुअस डिजीज नाम के जर्नल में छापा गया है. चीन के सेंट्रल फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने इस स्टडी में गुआंगझोउ की एक घटना का जिक्र किया है. जनवरी महीने में यहां वुहान से एक परिवार आया था. वुहान में ही कोरोना का संक्रमण सबसे पहले फैला था.
 
रेस्टोरेंट के एसी की वजह से फैला संक्रमण
रिसर्चर्स का कहना है कि उस परिवार में एक शख्स को बिना लक्षण वाला वायरस का संक्रमण था. दो हफ्ते बाद संक्रमित व्यक्ति अपने परिवार के कुछ सदस्यों और दोस्तों के साथ नजदीक के एक रेस्टोंरेंट में डिनर के लिए गया. उस ग्रुप में कुल 9 लोग मौजूद थे. बाद मे सभी वायरस के संक्रमण में पॉजिटिव पाए गए.

रिसर्चर ने कहा है कि येलोग जिस जगह बैठे थे वहां कोई खिड़की नहीं थी. सब एकदूसरे से एक मीटर से भी कम दूरी पर बैठे थे. एयर कंडिशन वाले नियंत्रित वातावरण में वायरस का संक्रमण तेजी से फैला. रिसर्चर का कहना है कि वायरस से संक्रमित हवा के कण में संक्रमण कुछ देर ही रहता है. ये कुछ दूरी ही तय कर सकता है. इसलिए वो इस नतीजे पर पहुंचे की एयर कंडिशन की वजह से टेबल के आसपास मौजूद लोगों में वायरस का संक्रमण हुआ.
रिसर्च में कहा गया है कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए रेस्टोरेंट को हिदायत दी गई है कि वो सख्ती से तापमान की मॉनिटरिंग करें, टेबल के बीच की दूरी बढ़ाएं और हवा आने-जाने की जगह रखें. चीन मे ये स्टडी उस वक्त आई है, जब लॉकडाउन के खत्म होने के बाद पब और रेस्टोरेंट के खोले जाने पर विचार चल रहा है.

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *