Author: Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ. Download Gulfhindi MOBILE APP
दुबई अबुधाबी आने जाने के लिए नए नियम, ग्रीन लिस्ट से आने वाले को भी देखना होगा प्रोटकाल
UAE

दुबई अबुधाबी आने जाने के लिए नए नियम, ग्रीन लिस्ट से आने वाले को भी देखना होगा प्रोटकाल

पिछले साल ठीक इसी वक्त जून के महीने में संयुक्त अरब अमीरात के अबू धाबी में कुछ नए प्रोटोकॉल लगाए थे जिसमें अबू धाबी में प्रवेश करने वाले सारे व्यक्तियों का कोविड-19 जांच किया जाता था यह नियम महज इसलिए लगाया गया था ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अबू धाबी पूरी तरीके से सुरक्षित रहे. आज 1 साल बाद अबू धाबी में प्रवेश करने के लिए क्या-क्या नियम है और उसमें अब तक क्या बदलाव किए गए हैं इस बात की जानकारी एक बार फिर से समझ लीजिए. अगर आप दुबई से अबू धाबी में आ रहे हैं तो आपके पास नेगेटिव पीसीआर टेस्ट का रिजल्ट होना चाहिए. अगर आप अबू धाबी में प्रवेश कर रहे हैं और आपने वैक्सीन के दोनों डोज़  ले रखे हैं तो आपको नेगेटिव आरटी पीसीआर टेस्ट की आवश्यकता नहीं होगी हालांकि 7 दिनों के भीतर आपका पीसीआर टेस्ट लिया जाएगा. इस वक्त पब्लिक परिवहन सेवाएं जैसे कि बस अबू धाबी और दुबई के बीच में नहीं चल रही हैं ले...
दुबई उड़ान भरने के लिए बिहारी प्रवासियों को तोहफ़ा, नही जाना होगा दिल्ली और लखनऊ
By Akhand India

दुबई उड़ान भरने के लिए बिहारी प्रवासियों को तोहफ़ा, नही जाना होगा दिल्ली और लखनऊ

बिहार के दरभंगा जिले में 8 नवंबर 2020 को शुरू हुए नए एयरपोर्ट घरेलू विमान की सेवाएं शुरू की गई, दरभंगा से हैदराबाद कोलकाता और भी कई राज्यों के लिए सीधी उड़ान शुरू की गई है। दरभंगा एयरपोर्ट से स्पाइसजेट विमानन कंपनी अलग-अलग राज्यों के लिए विमान सेवा मुहैया करती है।   अभी अभी मिली ताजा जानकारी के अनुसार स्पाइसजेट के अलावा इंडिगो ने भी दरभंगा में हैदराबाद और कोलकाता के लिए सीधी उड़ान सेवा आरंभ करने की घोषणा की है। इसके साथ-साथ स्पाइसजेट दरभंगा से अब दुबई के लिए भी उड़ान सेवा बहाल करने का ऐलान किया है।   यह उड़ान शुरू होने से बिहार से दुबई जाने वाले हवाई यात्रियों को बड़ी सहूलियत मिलेगी। बिहार के गोपालगंज सिवान और छपरा जिले से सबसे अधिक प्रवासी कामगार दुबई के लिए जाते हैं। जिनको दुबई जाने के लिए आमतौर पर पटना या गोरखपुर से घरेलू लाइट लेकर दिल्ली या लखनऊ जाना होता है। फिर वहां स...
इस भारतीय वैक्सीन को 11 देशों ने किया प्रतिबंधित, सबकी लिस्ट जारी, सही जानकारी और स्टडी का डेटा अपने पास रखे
India

इस भारतीय वैक्सीन को 11 देशों ने किया प्रतिबंधित, सबकी लिस्ट जारी, सही जानकारी और स्टडी का डेटा अपने पास रखे

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक दुष्प्रभाव के मामले सामने आने के बाद कई देशों ने फिलहाल कोविशील्ड वैक्सीन के इस्तेमाल पर रोक लगा दिया है। जिन देशों ने कोविशील्ड वैक्सीन के उपयोग पर रोक लगाने के साथ इसे जांच के तहत रखा है उनमें ऑस्ट्रिया, नॉर्वे, आइसलैंड, बुल्गारिया, नीदरलैंड, फ्रांस, जर्मनी, इटली, स्पेन, स्वीडन और थाईलैंड जैसे देश शामिल हैं। कनाडा के कई प्रांतों ने भी इसी तरह की चिंताओं को लेकर एस्ट्राजेनेका के टीकों का इस्तेमाल फिलहाल रोकने का फैसला किया है।   कोविशील्ड वैक्सीन को लेकर हंगामा क्यों? ब्रिटेन स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ एडिनबर्ग के अनुसंधानकर्ताओं के नेतृत्व में हुए अध्ययन में पाया गया कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के कारण रक्त में प्लेटलेट की कमी हो सकती है। वैज्ञानिकों के मुताबिक कोविशील्ड वैक्सीन के कारण ऐसे मामले जरूर साम...
मुस्लिम समुदाय से बिहार की पहली लड़की बनेगी DSP, रजिया गोपालगंज के हथुआ की रहने वाली हैं
India

मुस्लिम समुदाय से बिहार की पहली लड़की बनेगी DSP, रजिया गोपालगंज के हथुआ की रहने वाली हैं

बिहार में 27 वर्षीय मुस्लिम लड़की ने DSP बनकर इतिहास रच दिया। दरअसल 64वीं बिहार लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास करने के बाद बिहार पुलिस बल में DSP बनने वाली रजिया अपने समुदाय की पहली महिला हैं। रजिया सुल्तान उन 40 उम्मीदवारों में से एक हैं जिनका चयन बिहार पुलिस में पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) के पद पर हुआ है। बिहार की रजिया सुल्तान वर्तमान में बिहार सरकार के बिजली विभाग में सहायक इंजिनीयर के पद पर तैनात हैं। रजिया बिहार के गोपालगंज जिले की हथुआ की रहने वाली हैं। उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा झारखंड के बोकारो से पूरी की। उनके पिता मोहम्मद असलम अंसारी बोकारो स्टील प्लांट में स्टेनोग्राफर के पद पर तैनात थे। 2016 में उनका निधन हो गया और उनकी मां अभी भी बोकारो में रहती हैं। एक भाई और छह बहनों में रजिया सबसे छोटी हैं। उनकी सभी बड़ी बहनों की शादी हो चुकी है। उनके भाई एमबीए करने के बाद झांसी में एक प्...
सऊदी ने लगाया एक और प्रतिबंध, इन सारे प्रवासियों के लिए हो गयीं मुश्किल, सरकार कर रही बात
Saudi

सऊदी ने लगाया एक और प्रतिबंध, इन सारे प्रवासियों के लिए हो गयीं मुश्किल, सरकार कर रही बात

पाकिस्तान के लोगों के लिए सऊदी अरब जाना मुश्किल हो गया है। सऊदी में लाखों पाकिस्तानी काम करते हैं और अब हज का भी समय आ रहा है। दरअसल, सऊदी अरब में वही लोग जा पा रहे हैं जिन्होंने फाइजर, एस्ट्राजेनेका, मॉर्डना और जॉनसन की कोरोना वैक्सीन लगवाई है। लेकिन पाकिस्तान में उसके सदाबहार दोस्त चीन की वैक्सीन सिनोफार्मा और सिनोवैक लगाई जा रही है। जो चीन की वैक्सीन लगवा रहे हैं, उन्हें सऊदी अपने यहां नहीं आने दे रहा है।   चीन की वैक्सीन पर कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं। खास करके उसकी एफिकेसी रेट यानी प्रभावी दर पर। ऐसे में जो पाकिस्तानी सऊदी काम करने जाना चाह रहे हैं या हज यात्रा के लिए जाने की तैयारी कर रहे हैं, उनके लिए मुश्किल पैदा हो गई है। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, रविवार को पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रशीद ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान खुद सऊदी अरब में चीन की वैक्सीन की स्वीकार्...
सऊदी से वापस लौटते ही दिल्ली AIRPORT पर भारतीय प्रवासी गिरफ़्तार, लोकल थाने में था FIR, धर ले गयी पुलिस
India, Saudi

सऊदी से वापस लौटते ही दिल्ली AIRPORT पर भारतीय प्रवासी गिरफ़्तार, लोकल थाने में था FIR, धर ले गयी पुलिस

राजस्थान के झुंझुनूं (Jhunjhunu News) की सदर थाना पुलिस ने  एक आराेपी काे दिल्ली एयरपाेर्ट से पकड़ा है. गिरफ्तार आराेपी खारिया (मलसीसर) निवासी पंकज मेघवाल है. उसके खिलाफ 2018 में एक महिला ने ##### का मामला दर्ज कराया था. आराेपी विदेश भाग गया था. तब से पुलिस उसके आने का इंतजार कर रही थी. जब पुलिस काे इमिग्रेशन विभाग से पता चला कि पंकज कुमार दिल्ली आ गया है.   एयरपाेर्ट (Delhi Airport) पर उसकाे राेककर रखा गया है. सूचना पर सदर थाना पुलिस की टीम (Jhunjhunu Police) दिल्ली पहुंची. एएसआई दिलीप पूनियां, हैडकांस्टेबल राजकुमार शर्मा, कांस्टेबल मनाेज पूनिया की टीम ने आराेपी पंकज काे झुंझुनूं लेकर आई. थानाप्रभारी गाेपाल ढाका ने बताया कि आराेपी पंकज मामला दर्ज हाेने से पहले ही सऊदी अरब भाग (Saudi Arabia) गया था. पिछले साल पुलिस ने एंबेंसी के माध्यम से उसे भगाैड़ा घाेषित कर उसके खिलाफ लुकआउट न...
भारत और अरब की फ़्लाइट, कौन कामगार जा सकेंगे पहले ? और तीसरी लहर फिर बनने वाली हैं रोड़ा.
India

भारत और अरब की फ़्लाइट, कौन कामगार जा सकेंगे पहले ? और तीसरी लहर फिर बनने वाली हैं रोड़ा.

भारत में लगातार प्रवासियों के आवाज विदेशों में लगे यात्रा प्रतिबंध को लेकर मजबूत होते जा रहे हैं और सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों से लगातार वह अपने सरकार पर दबाव बना रहे हैं कि विदेशी  फ्लाइट के संचालन की सुनिश्चित  व्यवस्था की जाए.   भारतीय डिप्लोमेटिक  ग्रुप में इसको लेकर काफी एक्टिविटी की जा रही है और इसका नतीजा यह निकला है कि भारत अब द्विपक्षीय स्तर पर उन देशों के साथ वार्तालाप करेगा जिनके साथ विदेशी सेवाएं फ्लाइट की बंद रखी गई हैं. भारत सरकार का कहना है कि भारत में लगातार अब कोरोनावायरस के आंकड़े कम हो रहे हैं अतः भारत के ऊपर प्रतिबंध लगाए रखना ठीक नहीं है. विश्वसनीय सूत्रों की मानें तो सऊदी अरब जैसे देश अगर सेवाओं को दोबारा से शुरू करते हैं तो वह शुरुआत में उन भारतीय प्रवासियों को पहले मौका देंगे जो घरेलू कामगार और स्वास्थ सेवाओं से जुड़े हुए पेशेवर होंगे. इस वक्त कई अरब दे...
सऊदी अरब ने तो पूरी तैयारी की, खोला फ़्लाइट लेकिन भारत हुआ फेल जिसके वजह से प्रवासियों को हो रही दिक़्क़त
India, Saudi

सऊदी अरब ने तो पूरी तैयारी की, खोला फ़्लाइट लेकिन भारत हुआ फेल जिसके वजह से प्रवासियों को हो रही दिक़्क़त

इस वक्त खाड़ी देशों में भारतीय प्रवासियों के लिए सबसे बड़ी समस्या उनके प्रवेश को लेकर है चाहे संयुक्त अरब अमीरात हो या सऊदी अरब या अन्य देश हर जगह भारतीय प्रवासियों को प्रवेश के लिए इस वक्त काफी जद्दोजहद करनी पड़ रही है. सऊदी अरब अंतरराष्ट्रीय प्रवेश को खोलने के लिए अपनी योजना पर काम करना शुरू कर दिया है सऊदी अरब ने अंतरराष्ट्रीय प्रवेश को बंद करने से पहले कहा था कि वह अंतरराष्ट्रीय प्रवेश तक खुलेगा जब कोरोनावायरस  की स्थितियां सऊदी अरब के कंट्रोल में होगी. जब अखियां सुधरने लगी तब सऊदी अरब ने चरणबद्ध तरीके से चीजों को खोलना शुरू कर दिया. सऊदी अरब में नया मुकाम हासिल करते हुए इस दौर में 40% अपने सारे नागरिकों को कम से कम एक बार वैक्सीन  दे चुका है. इसे केवल आंकड़ा नहीं मानना चाहिए बल्कि यह सऊदी अरब की तैयारी का एक नायाब उदाहरण है जिसमें या परिवर्तित होता है कि वह कैसे अपने नागरिकों...
सरकार ने किया ऐसा ऐसा काम की सऊदी अरब को खोलना पड़ा प्रवासियों के लिए फ़्लाइट और देना पड़ा हैं assurance
Saudi, World

सरकार ने किया ऐसा ऐसा काम की सऊदी अरब को खोलना पड़ा प्रवासियों के लिए फ़्लाइट और देना पड़ा हैं assurance

सऊदी अरब ने कई देशों को प्रतिबंधित सूची में डाल रखा है और उन देशों के यात्रियों की सीधी प्रवेश पर अभी सऊदी अरब में मनाही है इसी बीच एक सरकार ने ऐसा कार्य किया है जिसको देखकर लंबे अरसे से इंतजार कर रहे भारतीय प्रवासियों के सरकार को भी सोचना चाहिए. सऊदी अरब ने प्रतिबंधित सूची में फिलीपींस को भी डाल रखा था लेकिन सऊदी अरब सरकार के साथ वार्तालाप और विमर्श करने के उपरांत इस प्रतिबंध को सऊदी अरब ने हटा लिया लेकिन लगातार खबरें आने लगी कि सऊदी अरब आने वाले  फिलीपींस के कामगारों से  क्वॉरेंटाइन के लिए पैसे लिए जा रहे हैं जिसके बाद तुरंत वहां की सरकार ने सऊदी अरब के मंत्रालय के साथ विचार विमर्श करना शुरू कर दिया और तत्काल प्रभाव से प्रवासी कामगारों के प्रस्थान पर रोक लगा दिया. फिलीपींस के सरकार के इस कदम के बाद सऊदी अरब की सरकार तुरंत हरकत में आई और उन्होंने तुरंत अपने सारे स्पॉन्सर और कंपनियों...
भारतीय flight 30 जून तक के लिए किया गया प्रतिबंधित, International flight के लिए नए DATE जारी किए गए
India

भारतीय flight 30 जून तक के लिए किया गया प्रतिबंधित, International flight के लिए नए DATE जारी किए गए

डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन यानी DGCA ने शेड्यूल इंटरनेशनल कमर्शियल फ्लाइट पर जारी पाबंदी को बढ़ाने का फैसला किया है. अब 30 जून तक भारत से और भारत के लिए, इंटरनेशनल फ्लाइट की सेवा बंद रहेगी. हालांकि इंटरनेशनल कार्गो प्लेन को इसके दायरे से बाहर रखा गया है. एयर बबल के तहत जिन देशों के लिए हवाई सेवा को खोला गया है, उस पर भी इस आदेश का कोई असर नहीं होगा. इससे पहले शेड्यूल इंटरनेशनल फ्लाइट सर्विस को 31 मई तक सस्पेंड करने का फैसला लिया गया था. वंदे भारत मिशन और ट्रैवल बबल के अंतर्गत जारी विमान सेवा पर इसका कोई असर नहीं होगा. ये हवाई सेवा जारी रहेगी. https://twitter.com/DGCAIndia/status/1398198325682212867?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1398198325682212867%7Ctwgr%5E%7Ctwcon%5Es1_c10&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.tv9hindi.com%2Fbusiness%2Fdgca-extended-restriction-sch...