UAE

UNITED ARAB EMIRATES HINDI NEWS and Latest breaking.

UAE : 1,863 इलेक्ट्रॉनिक स्कूटर, मोटरसाइकिल और साइकिलें जब्त, लापरवाहियों के कारण अनेक गंभीर एक्सीडेंट हुए
UAE

UAE : 1,863 इलेक्ट्रॉनिक स्कूटर, मोटरसाइकिल और साइकिलें जब्त, लापरवाहियों के कारण अनेक गंभीर एक्सीडेंट हुए

1,863 इलेक्ट्रॉनिक स्कूटर, मोटरसाइकिल और साइकिलें जब्त किया है Lieutenant Colonel Muhammad Allay Al Naqbi, Director of Traffic and Patrols Department, Sharjah Police ने बताया कि नियमों का उल्लंघन करने के जुर्म में बहुत सारे वाहनों को जब्त किया गया है। शारजाह पुलिस ने इस साल की पहली तिमाही में 1,863 इलेक्ट्रॉनिक स्कूटर, मोटरसाइकिल और साइकिलें जब्त किया हैं। लापरवाहियों के कारण अनेक गंभीर एक्सीडेंट भी हुए थे बता दें कि ज्यादातर वाहनों ने सुरक्षा नियमों का उल्लंघन किया था, जैसे कि हेलमेट न लगाना। इन लापरवाहियों के कारण अनेक गंभीर एक्सीडेंट भी हुए थे। इसीलिए ऐसी बेपरवाही दिखाने वाले लोगों के खिलाफ कार्यवाई जरुरी है, वरना खुद के साथ साथ वह दूसरों की जान भी खतरे में डालते रहेंगे।...
UAE : गुरुवार को कोरोना के 1928 नए मामले दर्ज़ किए गए, दिशानिर्देशों का पालन करने की अपील
UAE

UAE : गुरुवार को कोरोना के 1928 नए मामले दर्ज़ किए गए, दिशानिर्देशों का पालन करने की अपील

गुरुवार को कोरोना के 1928 नए मामले दर्ज़ किए गए संयुक्त अरब अमीरात के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि गुरुवार को कोरोना के 1928 नए मामले दर्ज़ किए गए हैं। वहीँ 1614 कोरोना मरीज़ ठीक भी हुए हैं। चार कोरोना मरीज़ों की मृत्यु भी हुई है। हरेक इंसान को नियमों का पालन करने की आवश्यकता मंत्रालय के द्वारा सभी लोगों से नियमों का पालन करने की अपील की गई है। कोरोना का डोज़ ले चुके लोगों के लिए भी नियमों का पालन करना आवश्यक है। वहीँ रमजान के दौरान मामलों में वृद्धि न हो इसके लिए तमाम तरह के नियम दिए गए हैं। अधिकारीयों की नज़र चप्पे चप्पे पर है। प्रतिष्ठानों में भी नियमों का पालन करना जरुरी है।...
भारतीय कामगार ने अपने साथी को गला रेत मार डाला, मिली थी मौत की सजा, पीड़ित के परिवार वालों ने आकर बचाया
UAE

भारतीय कामगार ने अपने साथी को गला रेत मार डाला, मिली थी मौत की सजा, पीड़ित के परिवार वालों ने आकर बचाया

साथी का गला रेत मार डाला भारतीय कामगार ने अपने साथ रहने वाले युवक का नोक झोक होने पर गला रेत कर मार डाला था। दोनों Al Nahda में एक अपार्टमेंट में रहते थे। उस वक़्त आरोपी 38 साल का था और उसने अपना जुर्म कुबूल भी कर लिया था। शारजाह क्रिमिनल कोर्ट ने उसे मौत की सजा भी सुना दी थी। यह मामला एक दशक पहले का है। आरोपी को जेल से बरी कर दिया गया और देश से भी निकाल दिया गया बता दें कि जाँच के दौरान पीड़ित के घरवालों से संपर्क करने की कोशिश की गई थी लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया था। लेकिन इस साल के शुरुवात में पीड़ित के परिजनों का पता चला और आश्चर्य की बात यह रही कि उन्होंने इस केस को खारिज करने की मांग कर दी। जिसके बाद आरोपी को जेल से बरी कर दिया गया और देश से भी निकाल दिया गया है। परिजनों ने ऐसा क्यों किया यह साफ नहीं हो पाया है।    ...
UAE : वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त मिलेगी यह सुविधा, 1,146 लोग पहले से ही इसका फायदा उठा रहे हैं
UAE

UAE : वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त मिलेगी यह सुविधा, 1,146 लोग पहले से ही इसका फायदा उठा रहे हैं

शारजाह में 19 जनवरी को एक योजना बनाई थी शारजाह नगरपालिका ने शारजाह में 19 जनवरी को एक योजना बनाई थी, जिसके तहत बुजुर्गो को free public parking subscriptions दिया जा रहा है। इसका मतलब यह हुआ कि अब बुजुर्गों को पार्किंग शुल्क नहीं देना होगा। बुजुर्ग नगरपालिका की वेबसाइट या Public Parking Department में जाकर इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। 1,146 लोग इसका फायदा उठा रहे हैं Public Parking Department के निदेशक अली अहमद अबू ग़ज़िन ने कहा कि इस सेवा की सदस्यता के लिए, आवेदकों को अमीरात का निवासी और 60 वर्ष से अधिक आयु का होना चाहिए। ध्यान रहे कि विकलांग लोगों के लिए या कमर्शियल प्रतिष्ठानों की जगह छोड़कर आप कही भी पार्क कर सकते हैं। अभी फिलहाल 1,146 लोग इसका फायदा उठा रहे हैं।...
अबू धाबी पुलिस ने नेक दिल प्रवासी का किया सम्मान
UAE

अबू धाबी पुलिस ने नेक दिल प्रवासी का किया सम्मान

मदद करने की फितरत आज भी लोगों में पाई जाती है अभी भी ऐसे लोग इस दुनिया में मौजूद हैं जिनके अंदर इमानदारी और इंसानियत नाम की चीज कायम है। लोगों का गलत तरीके से फायदा उठाने के बजाय उनकी मजबूरी समझ मदद करने की फितरत आज भी लोगों में पाई जाती है। ऐसे लोगों का हौसला अफजाई करना बहुत ही अच्छी बात है। अबू धाबी पुलिस ने भी एक प्रवासी को इंसानियत दिखाने के लिए उनका सम्मान किया। नेक दिल प्रवासी का किया गया सम्मान बता दे कि प्रवासी को एक कमर्शियल सेंटर पर पैसे मिले थे जिसे उन्होंने पुलिस के हवाले कर दिया। Major-General Suhail Al Rashidi, Director of the Criminal Security Sector उन्हें इस काम के लिए सराहा भी और तोहफा भी दिया।...
UAE : ऐसी गलती करने वाले लोगों पर Dh250,000 से Dh500,000 तक का जुर्माना और जेल भी, चंगुल में न फंसे
UAE

UAE : ऐसी गलती करने वाले लोगों पर Dh250,000 से Dh500,000 तक का जुर्माना और जेल भी, चंगुल में न फंसे

बिना लाइसेंस के लोग डोनेशन जमा करने में जुटे हुए हैं लोग UAE में रमजान के दौरान ऐसे बहुत सारे मामले आ रहे हैं जिनमें बिना लाइसेंस के लोग डोनेशन जमा करने में जुटे हुए हैं। लोक अभियोजन लोगों को आगाह करते हुए यह बताया है कि अवैध रूप से डोनेशन जमा कर रहे लोगों के चंगुल में ना आए। सोशल मीडिया के द्वारा किया गया जागरूक बता दें कि एक जागरूकता फिल्म के जरिए लोक अभियोजन ने सोशल मीडिया पर बताया है कि Article 27 of the Federal Law No. 5 of 2012 के मुताबिक बिना लाइसेंस और परमिट के डोनेशन जमा करने की जुर्म के जेल या Dh250,000 से Dh500,000 तक का जुर्माना लगाया जाएगा। 3 महीने की जेल या Dh5,000 तक का जुर्माना लगाया जाएगा यह भी साफ कर दिया गया है कि मस्जिद के आसपास अगर बिना इजाजत कोई डोनेशन लेता हुआ पकड़ा जाता है तो Article 8 of Federal Law No. (4) for 2018 के मुताबिक 3 महीने की जेल या Dh5,000 तक का...
‘Let’s Combat Begging’ अभियान के तहत पुलिस ने की लोगों को शिकायत करने की अपील
UAE

‘Let’s Combat Begging’ अभियान के तहत पुलिस ने की लोगों को शिकायत करने की अपील

‘Let’s Combat Begging’ अभियान के द्वारा इस तरह के लोगों से निपटने की कोशिश दुबई पुलिस ने मंगलवार रमजान के पहले दिन ही 12 भिखारियों को गिरफ्तार किया। Colonel Ali Salem, director of the department of infiltrators at the Dubai Police, ने बताया कि ‘Let’s Combat Begging’ अभियान के द्वारा इस तरह के लोगों से निपटने की कोशिश की जा रही है। मदद करने के बजाए उनकी शिकायत दर्ज़ कराने की बात कही गई बता दें कि Col Al Salem ने सभी निवासियों और प्रवासियों से ऐसे लोगों की मदद करने के बजाए उनकी शिकायत दर्ज़ कराने की बात कही है। उनकी शिकायत toll-free number 901, Police Eye service और Dubai Police App के जरिए करने की अपील की जा रही है क्यूंकि इससे कोरोना के बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है।...
UAE : कोरोना के 1,798 नए मामले दर्ज़ किए गए, 4 लोगों की मृत्यु
UAE

UAE : कोरोना के 1,798 नए मामले दर्ज़ किए गए, 4 लोगों की मृत्यु

बुधवार को कोरोना के 1,798 नए मामले दर्ज़ किए गए UAE में कोरोना को कम करने के लिए तमाम तरह के नियम कानून लागु किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय भी सभी से नियमों का पालन करने की अपील कर रहा है। Ministry of Health and Prevention ने कोरोना अपडेट देते हुए यह बताया है कि बुधवार को कोरोना के 1,798 नए मामले दर्ज़ किए गए हैं। 1,492 कोरोना के मरीज़ ठीक हुए हैं और 4 लोगों की मृत्यु हो गई। भारत में भी कोरोना की मार बता दें कि इधर भारत में भी बढ़ते कोरोना के मद्देनज़र Central Board of Secondary Education (CBSE) Class X की बोर्ड परीक्षाएं भी कैंसिल किया जा चूका है और क्लास 12 के एग्जाम को स्थगित कर दिया गया है। निवासियों से नियमों का पालन करने की अपील की गई है।...
UAE : रमजान के दौरान इन ग्राहकों को private delivery services दी जाएँगी, दरवाजे पर लीजिए पार्सल
UAE

UAE : रमजान के दौरान इन ग्राहकों को private delivery services दी जाएँगी, दरवाजे पर लीजिए पार्सल

रमजान के दौरान इन ग्राहकों को private delivery services दी जाएँगी Ajman Markets Cooperative Society ने अपने यहां शॉपिंग करने के लिए वालों के लिए एक खुशखबरी लेकर आया है। रमजान के दौरान इन ग्राहकों को private delivery services दी जाएँगी। Ajman Public Transport Authority (APTA) ने इस योजना को लागु किया है जिसके तहत सामान ग्राहकों के दरवाजे पर पहुँचाया जाएगा। उत्तम सुविधा प्रदान करने की कोशिश बता दें कि इस योजना के जरिए रमजान के महीने में कोरोना न बढ़े, यह बात सुनिश्चित करने की कोशिश की जा रही है। अधिकारीयों के 'Route' vehicles के जरिए सामानों को पहुँचाया जाएगा। इस दौरान कोरोना से बचने के सभी नियमों का पालन करना होगा। Engineer Omar bin Omair Al Muhairi, Director General of APTA के मुताबिक अधिकारी ग्राहकों को उत्तम सुविधा प्रदान करने की कोशिश कर रहे हैं।...
UAE : बच्चों की कस्टडी माँ से छीनकर पिता को दी गई, कोर्ट ने पिता के पक्ष में फैसला सुनाया
UAE

UAE : बच्चों की कस्टडी माँ से छीनकर पिता को दी गई, कोर्ट ने पिता के पक्ष में फैसला सुनाया

महिला से उसके बच्चों की कस्टडी छीनकर उसके पूर्व पति को दे दी अबू धाबी के Federal Supreme Court ने बताया कि एक महिला से उसके बच्चों की कस्टडी छीनकर उसके पूर्व पति को दे दी। उसके पूर्व पति ने एक याचिका दायर की थी जिसमे उसने बताया था कि उनके बच्चों की कस्टडी उसे दे दी जानी चाहिए। कोर्ट ने उसके पक्ष में सुनाया फैसला बता दें कि उसका कहना है कि उसकी पत्नी उन बच्चों का ख्याल रखने में असमर्थ है। पति के मुताबिक पत्नी का भाई बुरे मानसिकता वाला व्यक्ति है जिसकी वजह से वह उन बच्चों को उनके पास नहीं रखना चाहता है। क्यूंकि उस व्यक्ति की गंदी मानसिकता उन बच्चों के कोमल मस्तिष्क पर बुरा प्रभाव डालेगी। पहले उस व्यक्ति की याचिका खारिज कर दी गई थी लेकिन बाद में कोर्ट ने उसके पक्ष में फैसला सुनाया।...