अभी AIRPORT पर 200 लोगों को किया गया क्वारंटीन, 1 सप्ताह के लिए फ़्लाइट बैन और बढ़ाया भारत ने

भारत में ब्रिटेन से आया कोरोनावायरस का नया स्ट्रेन धीरे धीरे लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। भारत मे अब तक ब्रिटेन से आए 20 लोग इस स्ट्रेन से संक्रमित पाए गए हैं। वहीं इनके संपर्क में ब्रिटेन से आये लोगों की जांच हो चुकी है और नतीजे आने बाकी हैं। ऐसे करीब 200 लोगों को दिल्ली हवाईअड्डे स्थित एक होटल और छतरपुर स्थित संस्थागत क्वारंटीन में रखा गया है।

नए स्ट्रेन की जांच में मिले संक्रमित मरीजों को दिल्ली सरकार ने एलएनजेपी अस्पताल में आइसोलेशन में रखा है। दिल्ली हवाईअड्डे स्थित होटल में क्वारंटीन के तहत 80 से अधिक लोगों को रखा गया है और ये लोग इस क्वारंटीन सुविधा का सरकारी नियमों के तहत भुगतान कर रहे हैं। वहीं छतरपुर स्थित संस्थागत क्वारंटीन सेंटर में 100 से अधिक लोग हैं। हालांकि ये संख्या हर दिन ऊपर नीचे होती रहती है।

नए स्ट्रेन से 20 संक्रमितों में से सबसे ज्यादा 9 संक्रमित दिल्ली की लैबों में पाए गए हैं। इनके सह-यात्रियों, पारिवारिक संपर्कों और दूसरे लोगों के लिए बड़े स्तर पर कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग शुरू की गई है। होटल का एक हिस्सा पूरी तरह क्वारंटीन हुए लोगों के लिए कर दिया है। वहीं कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है। होटल स्टाफ को पूरी तरह मास्क और हाथों में ग्लव्स पहनना अनिवार्य है। होटल के बाहर दिल्ली पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

दरअसल स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को जानकारी दी थी कि इस संक्रमण से 6 लोग संक्रमित हैं लेकिन अब इनकी संख्या बढ़कर 20 हो गयी है। नए स्ट्रेन को लेकर बताया जा रहा है कि यह 70 फीसदी अधिक तेजी से फैलता है। वहीं कोरोना का नया स्ट्रेन सबसे पहले ब्रिटेन में कुछ दिन पहले ही मिले थे। ब्रिटेन के अलावा वायरस का नया स्वरूप डेनमार्क, हॉलैंड, ऑस्ट्रेलिया, इटली, स्वीडन, फ्रांस, स्पेन, स्विट्जरलैंड, जर्मनी, कनाडा, जापान, लेबनान और सिंगापुर में भी पाया गया है।

दूसरी ओर भारत ने यूके से आने और जाने वाली फ्लाइट पर लगी रोक को 7 जनवरी, 2021 तक बढ़ा दिया है। दरअसल भारत सरकार ने ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन आने के बाद से ही विमान सेवा पर रोक लगा दी थी।

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply