कुवैत में लॉकडाउन का तीसरा चरण शुरू, कही से किसी का भी लिया जाएगा SAMPLE, किया जाएगा TEST

कुवैत सरकार कोरोना महामारी के चलते जारी लॉकडाउन को घटाने के तैयारी में जुटी है। ऐसे हालतों में कुवैत की स्वास्थ्य सेवा ने गुरुवार को चेतावनी दी थी। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक लॉकडाउन की अवधि को नौ घंटे से घटाना कोरोना महामारी के खतरे को घटाने की जगह बढ़ा देगा।

 

गौरतलब है कि एक स्वास्थ्य विभाग ने एक प्रैस बैठक के दौरान कुवैत के मौजूदा हालातों पर बात करते हुए कहा कि लॉकडाउन के लेकर जारी सभी योजना के सभी पांच चरणों के दौरान संक्रमण को रोकने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य और सुरक्षा उपायों का पालन करना एकमात्र उपाय है जब तक कि कोई इलाज नहीं मिलता तब तक लोगों को कोरोना से बचने के लिए इन सभी नियमों का पालन करना होगा।

कोरोना वायरस: इटली में 10 हज़ार मौतें ...

इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि एक चरण से दूसरे चरण में संक्रमण और प्रतिबंधों को कम करने का उद्देश्य वायरस के प्रसार को कम करने के लिए स्वास्थ्य उपायों को लागू करते हुए रोजमर्रा की जिंदगी में वापसी करना है। ऐसे में सोशल डिस्टेसिंग का पालन फिलहाल बेहद जरूरी है। उन्होंने दोहराया कि इन उपायों में घर पर रहना और केवल आवश्यकता के लिए घर से बाहर निकलना, मुंह और नाक को ढंकना, सामाजिक दूरी बनाना(social distancing) और नियमित रूप से हाथ की सफाई करना बेहद जरूरी है।

Coronavirus Tests How To Know If You Are Infected With Coronavirus

यात्रियों के लिए रैंडम स्वैब टेस्ट का इंतजाम

इसी के साथ उन्होंने दूसरे देशों या नगरों से आने वाले यात्रियों को लेकर कहा स्वास्थ्य दिशानिर्देशों भी जारी किए। इस संबंध में उन्होंने कहा कि जैसा कि देश अगस्त में घरेलू उड़ानों को दुबारा शुरू करने के मामले पर विचार कर रहा है, तो उसके लिए हमें पहले से तैयार रहना होगा। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए कि व्यक्ति संक्रमित नहीं है, 14 दिन की होम क्वारंटाइन लागू किया जाएगा। इसके साथ ही visitor को सरकारी ऐप में अपनी पूरी जानकारी भरने और हर समय एक निर्धारित ई-ब्रेसलेट पहनने की आवश्यकता होगी, जिससे सरकार को समय-समय पर उसकी पूरी जानकारी मिल सके।

Know the procedures of covid 19 coronavirus test in private labs ...

इसके अलावा कोरोना का पीसीआर टेस्ट कराना होगा, ताकि कोरोना नेगेटिव होना की पुष्टी की जा सके। उन्होंने कहा कि इन्हें मान्यता प्राप्त अस्पतालों से यह टेस्ट कराना होगा। इसके साथ ही रैंडम स्वैब टेस्ट के लिए भी तैयार रहना होगा।

 

 

 

Leave a Reply