सऊदी अरब में 31 जुलाई को मनाया जायेगा पहला ईद-उल-अजहा, यहां देखे छुट्टी के लिए जारी की गई सभी तारीखें

सऊदी अरब के सर्वोच्च न्यायालय ने घोषणा की है कि शुक्रवार यानि 31 जुलाई, ईद अल अधा का पहला दिन होगा। अदालत ने कहा कि कल (मंगलवार) धू अल क़ायदा की 30 वीं तारीख है, और बुधवार, 22 जुलाई को, धू अल हिज्जा का पहला निशान होगा। चूंकि ईद अल अधा का पहला दिन हमेशा धू अल हिज्जा के 10 वें दिन पर आता है और अराफात दिवस के एक दिन बाद, शुक्रवार, 31 जुलाई, ईद अल अधा के पहले दिन को चिह्नित करेगा।

 

 

यहां देखे जारी की गई सभी तारीखें

कोर्ट द्वारा जारी की गई गणनाओं के अनुसार, 31 जुलाई, ईद-उल-अज़हा के पहले दिन को चिह्नित करेगा। घोषणा कैलेंडर समितियों के बाद हुई – इस्लामी कैलेंडर वर्ष के महीने का निर्धारण करने के लिए गठित बैठक के बाद यह फैसला किया गया। साथ ही पुष्टि की कि चंद्रमा आज नहीं दिखाई दिय़ा। जिसका मतलब है कि बुधवार, 22 जुलाई, इस साल के हज के मौसम की शुरुआत के निशान वाले ज़िल हज में से पहला होगा, जो कोरोनोवायरस महामारी के कारण किंगडम के भीतर से केवल 10,000 तीर्थयात्रियों तक सीमित होगा।”

सरकारी और प्राइवेट कंपनियों में इस दिन रहेगी छुट्टी

बतै दे सऊदी में इस साल के ईद-उल-अज़हा के पड़ने वाली छुट्टियों का ऐलान कर दिया गया है। प्राइवेट कंपनियों में यह छट्टी 29 जुलाई से लेकर 2 अगस्त तक रहेगी, तो वहीं सरकारी कार्यलयों में ईद-उल-अज़हा के लिए पड़ने वाली छुट्टियों की शुरूआत 23 जुलाई से होगी जोकी आगामी 8 अगस्त तक जारी रहेगी।

बता दे इससे पहले, संघीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने कहा था कि ईद-उल-अज़हा 31 जुलाई को पाकिस्तान में “विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के कैलेंडर के अनुसार” मनाया जाएगा।

ट्विटर पर इस बात की जानकारी साझा करते हुए चौधरी ने कहा कि ज़िलहज महीने का चाँद 21 जुलाई को कराची और उसके आसपास के इलाकों में देखा जाएगा। उन्होंने कहा कि चाँद को दूरबीन की मदद से और कुछ क्षेत्रों में नग्न आँखों से देखा जा सकता है।

Leave a Reply