1 July से international Entry, भारत समेत 54 देश के लिए खोला गया, सारे देशों की LIST हुई जारी

एक जुलाई से यूरोपीय संघ की सीमाएं खुलने की उम्मीद की है जा रही है। यूरोपीय संघ की सीमाएं खुलने के बाद 54 देशों के नागरिक शेंगेन देशों में प्रवेश कर सकेंगे। यूरोपीय संघ-मुक्त क्षेत्र को संदर्भित करने वाले शेंगेन में अधिकांश यूरोपीय देशों शामिल है। शेंगेन ज़ोन के भीतर कोई सीमा नियंत्रण नहीं हैं।

EU

यूरोपीय संघ के अधिकारियों ने कहा कि सूची को प्रत्येक देश में महामारी विज्ञान की स्थिति और कोरोना वायरस प्रतिक्रिया के अनुसार implement किया जाएगा।

54 देशों के नाम:

  1. अल्बानिया
  2. एलजीरिया
  3. अंडोरा
  4. अंगोला
  5. ऑस्ट्रेलिया
  6. बहामा
  7. भूटान
  8. बोस्निया और हर्जेगोविना
  9. कनाडा
  10. चीन
  11. कोस्टा रिका
  12. क्यूबा
  13. कोरिया डेमोक्रेटिक पीपुल्स रिपब्लिक
  14. डोमिनिका
  15. मिस्र
  16. इथियोपिया
  17. जॉर्जिया
  18. गुयाना
  19. भारत
  20. इंडोनेशिया
  21. जमैका
  22. जापान
  23. कजाखस्तान
  24. कोसोवो
  25. लेबनान
  26. मॉरीशस
  27. मोनाको
  28. मंगोलिया
  29. मोंटेनेग्रो
  30. मोरक्को
  31. मोजाम्बिक
  32. म्यांमार
  33. नामीबिया
  34. न्यूजीलैंड
  35. निकारागुआ
  36. पलाऊ
  37. परागुआ
  38. रवांडा
  39. सेंट लूसिया
  40. सर्बिया
  41. दक्षिण कोरिया
  42. तजाकिस्तान
  43. थाईलैंड
  44. ट्यूनीशिया
  45. तुर्की
  46. तुर्कमेनिस्तान
  47. युगांडा
  48. यूक्रेन
  49. उरुग्वे
  50. उज़्बेकिस्तान
  51. वेटिकन सिटी
  52. वेनेजुएला
  53. वियतनाम
  54. जाम्बिया

आपको बता दें कि आयोग ने 15 जून को आंतरिक शेंगेन सीमाओं को फिर से खोलने पर अपनी सिफारिश पेश की थी, ताकि यूरोपीय लोग सीमावर्ती क्षेत्र में स्वतंत्र रूप से यात्रा कर सकें, जैसा कि उन्होंने Schengenvisainfo.com के अनुसार पूर्व-महामारी में किया था।

 

आयोग ने यह भी सिफारिश की कि सदस्य देशों को तीसरे देश के नागरिकों को एक जुलाई से शुरू होने वाले यूरोपीय संघ में प्रवेश करने की अनुमति धीरे-धीरे और आंशिक रूप से देना चाहिए, अनुमति प्रत्येक तीसरे देश में महामारी विज्ञान की स्थिति के आधार पर दिया जाना चाहिए।

 

जुलाई की शुरुआत से जब EU (यूरोपीय संघ) की सीमाएं खुल जाएंगी, तब से 54 देशों के नागरिक schengen देशों में आसानी से प्रवेश कर सकेंगे। आप जान ले कि schengen एक ऐसा संघ है जो अधिकांश यूरोपीय देशों को शामिल करता है। यह किसी भी व्यक्ति को यात्रा करने की अनुमति देता है और सबसे खास बात schengen जोन के भीतर किसी तरह की कोई सीमा नियंत्रण नहीं है।

 

 

ऑफिशियल रिलीज के बाद यूरोपीय संघ के अधिकारियों द्वारा बताया गया कि यात्रा के दौरान रोकथाम के उपाय लागू करने की क्षमता होगी। हालांकि आयोग के द्वारा 15 जून को आंतरिक schengen सीमाओं को वापस खोलने पर सिफारिश की गई ताकि यूरोपीय लोग सीमावर्ती क्षेत्रों में स्वतंत्र रूप से यात्रा कर सके, जैसे वह महामारी से पहले किया करते थे।

इसके अलावा आयोग ने यह बात की भी सिफारिश की है कि सदस्य देशों को तीसरे देशों के नागरिकों को 1 जुलाई से शुरू होने वाले यूरोपीय संघ में प्रवेश करने की अनुमति देनी चाहिए।

Leave a Reply