भारत के इन रूट की फ़्लाइट सेवा बंद, DGCA ने जारी किया बंद रूट का लिस्ट,

कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण नहीं हो पाने से लोगों के आवागमन पर बार-बार लग रही बंदिशों के कारण उड्डयन के क्षेत्र पर विपरीत प्रभाव पड़ा है। यात्रियों की संख्या में कमी आने से एयरलाइंस कंपनियों को काफी नुकसान हो रहा है। कई हवाई मार्गों पर बहुत कम यात्री मिल रहे हैं। इसी कारण हाल ही में घोषित समर शेड्यूल से इंदौर का कई शहरों और राज्यों से सीधा संपर्क टूट गया है, जबकि समर शेड्यूल से नई उड़ानों की उम्मीद की जा रही थी। अब इंदौर का उत्तरप्रदेश और पश्चिम बंगाल का सीधा जुड़ाव ही खत्म हो गया है, जबकि जयपुर उड़ान बंद होने से राजस्थान की राजधानी से भी सीधा जुड़ाव टूट गया है।

GOAIR
GOAIR

वैसे तो समर शेड्यूल में उड़ान कंपनियों ने 26 अक्टूबर तक इंदौर से 44 नई उड़ानें शुरू करने की अनुमति नागरिक उड्डयन विभाग के महानिदेशक (डीजीसीए) से ली है। 28 मार्च से लागू हुए समर शेड्यूल में इंदौर से लखनऊ, कोलकाता, जयपुर के साथ शिरडी उड़ान को भी बंद कर दिया है। जानकारी के अनुसार शिरडी उड़ान को पर्याप्त यात्री नहीं मिल रहे थे। कंपनी ने सप्ताह में 6 दिन चलने वाली इस उड़ान को सप्ताह में तीन दिन भी चलाया। इसके अलावा तीन दिन इसे अहमदाबाद के लिए भी चलाया, फिर भी पर्याप्त यात्री नहीं मिल रहे थे। इसी तरह जयपुर, कोलकाता और लखनऊ के लिए भी यात्री नहीं मिलने से एयरलाइंस को घाटा हो रहा था।

Spicejet
Spicejet

ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन आफ इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष हेमेंद्रसिंह जादौन बताते हैं कि किसी भी एयरलाइंस को अगर कुल क्षमता के 65 से 70 प्रतिशत भी यात्री मिलते हैं तो उस उड़ान को सफल माना जाता है। एयरलाइंस को नुकसान नहीं होता है और उसका संचालन करती रहती है। लेकिन इससे कम यात्री होने से एयरलाइंस को नुकसान होता है। फिर उस उड़ान को बंद कर कंपनी फायदे वाले अन्य मार्ग पर उड़ानें संचालित करती है। छोटे शहरों में यह दिक्कत होती ही है। उसमें कभी यात्री मिलते हैं, कभी नहीं मिलते हैं। लखनऊ के साथ यही हो रहा था। उसमें कभी पूरी सीट भर रही थी, कभी केवल नाममात्र के यात्री मिल रहे थे। कोरोना के मामलों में इजाफा होने के कारण भी लोग कम यात्रा कर रहे हैं।

Indigo Planes at Delhi Airport
Indigo Planes at Delhi Airport

जयपुर में केवल त्योहारी उड़ान

विशेषज्ञ बताते हैं कि इंदौर से जयपुर की उड़ान बंद चालू होती रहती है। ट्रैवल एजेंट आपसी भाषा में इसे बेटी-बहू फ्लाइट कहते हैं। दरअसल यहां से जयपुर घूमने या काम से जाने के बजाय ज्यादातर लोग अपने रिश्तेदारों या शादी में शामिल होने जाते हैं। जब शादी-ब्याह का समय होता है तो इसमें ज्यादा यात्री मिलते हैं। अब गर्मी आ गई तो इसमें यात्री मिलना कम हो गए हैं, इसलिए कंपनी ने इसे बंद कर दिया। बाद में इसे फिर से चालू कर लिया जाएगा।

Airindia111 571 855

यात्रियों को है यह नुकसान

जादौन के अनुसार किसी भी शहर के लिए सीधी उड़ान होने से यात्रियों को सबसे बड़ा फायदा होता है कि उनके समय की बचत हो जाती है, लेकिन सीधी उड़ान नहीं होने से यात्री को कनेक्टिंग उड़ान लेनी होती है। आप इसे ऐसे समझें कि इंदौर से जयपुर जाने वाले यात्री 50 मिनट में वहां पहुंच जाते थे, लेकिन अब यात्रियों को पहले दिल्ली या मुंबई जाना होगा। वहां से वे जयपुर जा सकेंगे। इसमें अधिक समय लग जाएगा।

AIRINDIA FLIGHT e1595143078415
AIRINDIA FLIGHT

हर बार बंद होती हैं इन शहरों की उड़ानें

इंदौर से राजस्थान के जोधपुर, जयपुर की सीधी उड़ानें थीं, लेकिन उन्हें बंद कर दिया गया। अब राजस्थान के लिए केवल किशनगढ़ की उड़ान बची है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के लिए पहले प्रयागराज और लखनऊ की उड़ानें थीं, जो अब बंद हो गई हैं। केवल दिल्ली, चंडीगढ़, रायपुर, चेन्नई, बेंगलुरु, हैदराबाद, बेलागावी, किशनगढ़, मुंबई, गोवा, पुणे, अहमदाबाद और नागपुर की सीधी उड़ान इंदौर से बची हैं।

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply