भारतीय कोरोना वेरिएंट का विदेशों में मिलना चिंताजनक, इधर भारत में मामलों में कमी का किया जा रहा है दावा लेकिन अलग ही है तस्वीर

कोरोना वेरिएंट अब दूसरे देशों की सीमा पार कर वहां भी लोगों को खून के आँशु रुलाने की तैयारी में

ऐसा लग रहा है कि भारत में तहलका मचा रहा कोरोना वेरिएंट अब दूसरे देशों की सीमा पार कर वहां भी लोगों को खून के आँशु रुलाने की तैयारी में है। Russia में भारतीय कोरोना वेरिएंट का पहला केस सामने आया है जिसमे Ulyanovsk State University में 16 छात्र इस वेरिएंट से संक्रमित पाए गए हैं।

कमी इसलिए आ रही है क्यूंकि कोरोना टेस्ट में कमी हुई है

बता दें कि सभी छात्रों को आइसोलेशन में रखा गया है और उनका इलाज़ चल रहा है। ऐसा कहा जा रहा है कि भारत में पाया जाने वाला कोरोना वेरिएंट तेजी से फैलता है। इधर भारत सरकार का कहना है कि कई राज्यों में लगी तमाम तरह की पाबंदियों का यह नतीजा सामने आ रहा है कि कोरोना मामलों में कमी आई है। लेकिन कुछ मीडिया स्रोत की मानें तो कोरोना मामलों में कमी इसलिए आ रही है क्यूंकि कोरोना टेस्ट में कमी हुई है। यह काफी चिंताजनक बात है। अंतिम संस्कार के लिए प्रयाप्त साधन न होने के कारण भारत से काफी भयावह तस्वीरें सामने आ रही हैं।

लाशें गंगा में बहा दी जा रही हैं और वो बहकर जहाँ तहाँ किनारों पर पहुँच रही हैं

कई मामलों में परिजन ही कोरोना मरीज़ों का शव लेने से इंकार कर दे रहे हैं। ऐसे शवों का अंतिम संस्कार कुछ समाजसेवकों द्वारा किया जा रहा है। लाशें गंगा में बहा दी जा रही हैं और वो बहकर जहाँ तहाँ किनारों पर पहुँच रही हैं। यह इंसानी फितरत है कि मुसीबत में वह सबसे पहले अपनी जान बचाता है लेकिन इस दौरान भी मानवता उसमे कायम रहती है। मगर कुछ तस्वीरें ऐसी भी हैं जो मानवता को ताड़ ताड़ कर रही हैं और जिन्हे देखकर और सुनकर आपका कलेजा दहल जाए।

 

 

About Satyam Kumari

Journalist from Bihar. Associated with Gulfhindi.com since 2020. Can be reached at hello@gulfhindi.com with Subject line "Reach Satyam kumari."

Leave a Reply