भारत में फ़्लाइट को लेकर मिला हरी झंडी सारे विमान कंपनिया हुए खुश, ज़्यादा यात्रा और यात्री दोनो को अनुमती

मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन (एमओसीए) ने सोमवार को डॉमेस्टिक फ्लाइट्स (Domestic Flight Capacity) की कैपिसिटी को 50 फीसदी से बढ़ाकर 65 फीसदी कर दिया है. कोरोना वायरस के चलते एक साल से अधिक समय से फ्लाइट्स सर्विसेज पर काफी असर पड़ा है. अब सरकार के नए आदेश के बाद पहले की तुलना में अधिक लोग यात्रा कर सकेंगे.

 

सरकार ने पांच जुलाई को जारी किए ऑर्डर में बताया है कि वर्तमान स्थिति की समीक्षा के बाद हवाई यात्रा के लिए तय 50 फीसदी क्षमता को बढ़ाकर 65 फीसदी किया जाता है.

मंत्रालय का यात्री क्षमता से संबंधित नया ऑर्डर पांच जुलाई से ही लागू हो जाएगा, जोकि 31 जुलाई या फिर अगले आदेश तक लागू रहेगा. कोरोनाकाल में डॉमेस्टिक ऑपरेशंस पूरे कोविड प्रोटोकॉल्स के साथ ही जारी हैं. यात्रियों को यात्रा करने से पहले मास्क पहनना जरूरी है. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना आवश्यक है.

 

डीजीसीए ने कुछ महीने पहले कहा था कि एयरपोर्ट पर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ फाइन लगाया जाना चाहिए. इसके बावजूद भी कोई यात्री प्रोटोकॉल का पालन नहीं करता है तो फिर उसके खिलाफ और सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए.

 

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर अब धीमी होने लगी है. एक समय रिकॉर्ड बना रहे मामले अब लगातार कम हो रहे हैं. हालांकि, एक्सपर्ट्स और सरकार ने तीसरी लहर की चेतावनी भी दी है. सरकार ने लोगों से पूरे कोरोना नियमों का पालन करने के लिए कहा है.

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply