दुबई में कामगारों के बीच ज़बरदस्त मारपीट, एक ने दूसरी की हत्या कर दी, भारतीय कामगार ने दिया पुलिस का साथ

एक नजर पूरी खबर

  • दुबई में भारतीय कामगार ने की साथी कामगार की हत्या
  • कोर्ट ने सुनाई पांच साल की सजा
  • फोन खोने के मामले को लेकर शुरू हुआ था विवाद

दुबई में एक कार्यकर्ता ने अपने मोबाइल फोन खो देने के मामले में अपने साथी कामगार के साथ पहले मारपीट की और फिर उसकी हत्या कर दी। इस मामले में दुबई कोर्ट ऑफ फ़र्स्ट इंस्टेंस ने उसे 5 साल की सजा सुनाई है।

दरअसल अदालत ने 33 वर्षीय एक एशियाई कामगार को पीड़ित पर हमला करने का दोषी पाया। साथ ही कोर्ट ने कहा कि उसकी मारपीट के चलते ही उस व्यक्ति की मौत हुई। हालांकि जिस वक्त यह हंगामा हुआ उस वक्त दोनों ही नसे में थे।

सरकारी रिकॉर्ड से पता चलता है कि यह घटना पिछले साल 13 दिसंबर को हुई थी जब बचाव पक्ष ने पीड़िता को सीने में बार-बार घूंसा मारा था। हालांकि अपने पक्ष में गवाही देते हुए उसने कहा कि उसने पीड़ित को मारने के इरादे से नहीं मारा था। वह सिर्फ उसे डराना चाहता था। उस व्यक्ति ने कहा कि दोनों उस समय नशे में थे और पीड़ित व्यक्ति बार-बार उसका अपमान कर रहा था।

वहीं इस मामले में 41 वर्षीय एक भारतीय मैकेनिक, जो मामले में गवाह के रूप में कोर्ट में मौजूद था उसने कहा कि पीड़ित उसका दोस्त था और वह अक्सर अल क्वोज़ में उससे मिलने के लिए बाहर घूमने और साथ में शराब पीने जाया करता था। “घटना के दिन, मैंने उसे और एक अन्य भारतीय व्यक्ति के साथ एक ट्रक के पीछे बैठा पाया। वे दोनों शराब पी रहे थे। मैं थोड़ी देर के लिए चला गया और जब मैं वापस आया, तो मुझे अपना मोबाइल फोन नहीं मिला।” इसके बाद फोन की खोजबीन के चलते दोनों के बीच झगड़ा शुरू हो गया। इसके बाद मैने आरोपी व्यक्ति को पीड़ित के पेट और छाती में घूसे और लात मारने हुए देखा। इसके बाद वह उसे वहां छोड़कर भाग गए। इसके दो दिन बाद उन्हे पता चला कि वह मर गया।
इसके बाद पुलिस जांच पड़ताल के बाद आरोपी का खुलासा हुआ और जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

Leave a Reply