UAE राजकुमारी के ऊपर भारत में FIR दर्ज, भारतीय मुसलमानो को भड़काने और सांप्रदायिक दंगे उकसाने का आरोप

भारत में भारतीय मुस्लिमों को लेकर लगातार कई सप्ताह से संयुक्त अरब अमीरात की राजकुमारी अपने ट्विटर हैंडल कर रही है विचार साझा कर रही है. इसी दरम्यान राजकुमारी ने भारत पर इस्लामोफोबिया का आरोप लगाया. राजकुमारी ने भी अपने अलग अलग ट्वीट के ज़रिए भारत में मुस्लिमों पर हो रहे अत्याचार जैसे विषय को मिडिल ईस्ट में चर्चा का विषय बनाया. फलस्वरूप है न बातें आगे बढ़ें और संयुक्त अरब अमीरात में हैं कई सांप्रदायिक पोस्ट लिखने वाले भारतीय प्रवासियों को काम से निकाला गया, और कई प्रवासियों पर अब पब्लिक प्रॉसिक्यूशन में मामला दर्ज कर आगे का कार्य किया जा रहा है.
 
 
इस विषय पर कई लोगों ने राजकुमारी के विचारों का समर्थन किया है और भारत में तथा कथित इस्लामोफोबिया को सच बताया है कि तो कई समूहों ने यह भी कहा है कि भारत में मुसलमानों की फ़िक्र दूसरे लोग न करें यह भारत का अंदरुनी मामला है और भारत शुरू से एक सेक्युलर राष्ट्र है.
 
राजकुमारी ने अपने एक ट्वीट में भारतीय जनता पार्टी के नेता के पुराने मीडिया फाइल्स को शेयर करते हुए कहा कि भारत का मुसलमान और क्रिश्चियन धर्म के लिए संकट बढ़ा रहा है और 2021 तक इन्हें ख़त्म कर देगा.

 
 
इस पर और अधिक सफ़ाई देते हुए ट्विटर यूज़र विकास पांडे ने बताया है कि यह मसलन छह साल पुराना है और उक्त कार्यकर्ता को भारतीय जनता पार्टी ने भी उसी वक़्त पार्टी से निकाल दिया था. और इसके साथ ही विकास पांडे ने UAE राजकुमारी के ऊपर एफ़आइआर करने की अपील की.
 


 
भारत ने अब तक इस मामले को लेकर UAE राजकुमारी के ऊपर साइबर क्राइम डिपार्टमेंट में अलग अलग लोगों के द्वारा अब तक तो कई एफ़आइआर दर्ज किए जा चुके हैं. हमारी टीम को मिली जानकारी के अनुसार चार F IR की पुष्टि की गई है हालाँकि सोशल मीडिया पर लगातार अलग अलग लोगों के द्वारा FIR कर स्क्रीनशॉट शेयर किया जा रहा है. अतः असल संख्या के ऊपर हमारी कोई टिप्पणी नहीं है.

 
इस FIR को एक ट्विटर यूज़र ने अपने अकाउंट से FIR करने के उपरांत स्क्रीनशॉट शेयर किया है, जोकि अपने आपको ट्विटर के बायो में भारतीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का प्रशंसक बताता हैं.


 
 

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *