6.2 के तीव्रता का भीषण भूकम्प, कम से कम 50 से ज़्यादा लोगों की मौत

इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप पर आधी रात के बाद आये तेज भूकंप में कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई है। भूकंप के बाद हुए भूस्खलन की वजह से हजारों लोगों को रात के अंधेरे में अपना घर छोड़ना पड़ा। भूकंप और भूस्खलन की इस घटना में कम से कम 600 लोग घायल हुए हैं। माना जा रहा है कि मरने वालों का आंकड़ बढ़ सकता है। रिक्‍टर पैमाने पर इस भूकंप की तीव्रता 6.2 मापी गई है।

इंडोनेशिया के अधिकारियों ने बताया कि कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई और 600 अन्य लोग घायल हुए हैं। उन्होंने बताया कि वे प्रभावित इलाकों से जानकारी हासिल कर रहे हैं। हताहतों की संख्‍या बढ़ने की आशंका जताई गई है। राष्ट्रीय आपदा शमन एजेंसी की ओर से जारी की गई एक वीडियो में एक बच्ची एक घर के मलबे में फंसी और मदद की गुहार लगाती नजर आ रही है। बच्ची यह भी कहती दिखी कि उसकी मां जिंदा है लेकिन बाहर नहीं निकल पा रही।

मरीजों को बाहर अस्थायी आपात तंबुओं में पहुंचाया गया
वहीं बचावकर्मियों ने उससे कहा कि वह उसकी मदद करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। टीवी चैनलों की खबर के अनुसार भूकम्प से एक अस्पताल का हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया और मरीजों को बाहर अस्थायी आपात तंबुओं में पहुंचाया गया। अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे ने बताया कि करीब दो हजार लोगों को कई अस्थायी आश्रय स्थलों में रखा गया है। उसने बताया कि शुक्रवार तड़के आए भूकम्प की तीव्रता 6.2 थी।

Image

इस भूकंप का केन्द्र पश्चिम सुलावेसी प्रांत के मामुजु जिले में 18 किलोमीटर की गहराई में था। इसी क्षेत्र में बृहस्पतिवार को समुद्र के अंदर 5.9 की तीव्रता का भूकम्प आया था। इंडोनेशिया की आपदा एजेंस ने बताया कि 8 लोगों की घर और इमारतें गिरने से मौत हो गई। केवल मजेने जिले में ही 600 लोग घायल हुए हैं। बताया जा रहा है कि वहां 300 घर बर्बाद हो गए हैं और 15 हजार लोगों को आश्रयों में शरण लेनी पड़ी है।

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply