ख़बरदार: सऊदी में लागू हो गया क़ानून, whatsapp, फ़ेसबूक, internet चलाने वाले अभी पढ़ ले वरना पड़ेगा घोर पछताना

जेद्दाह – सऊदी की सार्वजनिक अभियोजन शनिवार को बताया की सार्वजनिक आदेश और सुरक्षा को प्रभावित करने वाली अफवाहें या फेक खबरों को साझा करना या प्रसार करना साइबर क्राइम कहलाएगा. जिसके अंतर्गत 5 साल की जेल और 3 मिलियन सऊदी रियाल जुर्माना देना होगा.

 

सऊदी गेजेट के मुताबिक, यह कहा गया है कि साइबर क्राइम रेगुलेशन के अनुच्छेद 6 में अधिकतम 5 साल की कारावास और अधिकतम 3 मिलियन सऊदी रियाल जुर्माना या इन दो दंडों में से एक है जो सार्वजनिक आदेश, धार्मिक मूल्यों, सार्वजनिक नैतिकता और गोपनीयता का उल्लंघन करने वाले इलेक्ट्रॉनिक रूप से उत्पन्न या प्रसारित करने वाले लोगों के लिए है.

अगर समान सामग्री तैयार की जाती है या इलेक्ट्रॉनिक रूप से भेजी जाती है या कंप्यूटर पर और सोशल मीडिया नेटवर्क में संग्रहीत की जाती है तो वही जुर्माना लागू होगा.

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply