मुस्लिम बहुल देश ने किया दूतावास खोलने का फैसला, अब यहां लगा सकते हैं देशवासी अपनी गुहार

एक नजर पूरी खबर

  • तुर्की और इजराइल के बीच लगातार बिगड़ रहे संबंध
  • मुस्लिम बहुल देश यरुशलम खोलेगा अपना दूतावास
  • यरुशलम के इस फैसले पर भड़क गया तुर्की

 

तुर्की और इजराइल के बीच लगातार संबंध बिगड़ते जा रहे हैं। ऐसे में मुस्लिम बहुल देश यरुशलम अपना दूतावास खोलना जा रहा है। इसी कड़ी में मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “हम कोसोवो के नेतृत्व को संयुक्त राष्ट्र के फैसलों का पालन करने के लिए ऐसे कदमों से बचने के लिए कहते हैं जो यरूशलेम की ऐतिहासिक और कानूनी स्थिति को कम कर देंगे और कोसोवो को भविष्य में अन्य राज्यों द्वारा मान्यता प्राप्त होने से भी रोक सकते हैं।”

 

इस मामले पर शनिवार को कोसोवर के राष्ट्रपति हाशिम थिसी ने ट्वीट कर कहा कि, मैं इजरायल के पीएम [बेंजामिन] नेतन्याहू की घोषणा का स्वागत करता हूं कि उन्होने कोसोवो को मान्यता दी और राजनयिक संबंध स्थापित करने के वास्तविक इरादे के बारे में बताया। कोसोवो अपने राजनयिक मिशन को यरुशलम में रखने का अपना वादा निभाएगा।

वहीं इस मामले पर तुर्की भड़क गया और उसने रविवार को कोसोवो से यरुशलम में दूतावास खोलने का विरोध करते हुए कहा कि ऐसा करने से संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों को कमजोर किया जाएगा और फिलिस्तीनी मुद्दे को चोट पहुंचेगी।

 

 

Leave a Reply