भारत में फिर कर्फ़्यू जैसे LOCKDOWN लगाने के लिए इन जगह पर आदेश, प्रवासियों के घर लौटने पर भी हो सकता हैं फ़ैसला

राजधानी पटना में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए फिर से लॉकडाउन लगाने का बड़ा फैसला लिया गया है. भागलपुर में 5 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा के बाद पटना में भी लॉकडाउन लागू करने का यह बड़ा निर्णय लिया गया है.

 

राजधानी पटना में एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन की घोषणा की गई है. पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि ने कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर यह बड़ा फैसला लिया है. कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए डीएम ने बुधवार को अधिकारियों के साथ बैठक की. इस बैठक में 7 दिनों के लिए पटना में लॉकडाउन की घोषणा की गई है. 10 जुलाई से लेकर 16 जुलाई तक यानी कि एक हफ्ते के लिए यह लॉकडाउन की घोषणा की गई है.

 

पटना में पिछले 24 घंटे में 65 इलाकों में 255 नए मिले हैं. इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भीतीजी, पटना मेयर का बेटा, भाजपा विधायक गायत्री देवी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. आपको बता दें कि रेलवे हाजीपुर मुख्यालय के मुख्य कार्यालय अधीक्षक समेत 3 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है. पटना में सबसे ज्यादा प्रभावित पटना सिटी इलाका है. यहां के 37 मुहल्लों में 62 नए मरीज सामने आये हैं.

भागलपुर में भी बढ़ते संक्रमण को लेकर डीएम प्रणव कुमार ने अगले पांच दिनों तक लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है. 9 जुलाई को सुबह 6 बजे से 13 जुलाई तक जिले में लॉकडाउन रहेगा. इस दौरान जरूरी सेवाएं चालू रहेंगी. राशन और दवा दुकानें, सरकारी कार्यालय, एटीएम, बैंक, दूध और पत्रकारों को छूट दी गई है. बेवजह बाहर निकले लोगों पर जुर्माना लगाया जाएगा. जिले में अब तक 643 मरीजों की पुष्टि हुई है. इसमें 452 ठीक हो चुके हैं और पांच लोगों की जान गई है. 186 केस अभी एक्टिव है.

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply