क़तर से नौकरी गयी तो दिल्ली आया कामगार, करने लगा लूटपाट, पेशा से इंजीनियर हैं, अब हुआ गिरफ़्तार

काेरोना संकट के दौरान कतर में नौकरी छूटने के बाद भारत लौटे एक इंजीनियर व उसके दो दोस्तों को लूटपाट के आरोप में द्वारका जिला स्पेशल स्टाफ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने नजफगढ़ इलाके में पुलिसकर्मी बन पंजाब से आए दो शख्स को रोका और बाद में उनका अपहरण कर लूटपाट की थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज में मिले कार के रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर स्वप्निल व रवि शर्मा को उत्तर प्रदेश के लोनी इलाके से गिरफ्तार किया। वहीं तीसरे आरोपित केशव सहगल को रानी बाग से दबोचा। स्वप्निल इंजीनियर है और नौकरी छूटने के बाद वह अपराध की राह पर चल पड़ा था।

 

द्वारका जिला पुलिस उपायुक्त एंटो अल्फोंस ने बताया कि पंजाब से मंदीप सिंह व जगदीप सिंह किसी काम के सिलसिले में दिल्ली आए थे। 18 अगस्त को वे अपनी वर्ना कार से बाबा हरिदास नगर थाना इलाके से जा रहे थे। नजफगढ़ सब्जी मंडी के पास तीन बदमाशों ने पुलिसकर्मी बन उनकी वर्ना कार काे रोका और उनसे पूछताछ करने लगे। इस दौरान किसी को शक नहीं हो इसलिए बदमाशों ने हाथ में वॉकी टॉकी भी ले रखा था। पूछताछ के बाद दोनों को बदमाशों ने काले रंग की क्रेटा कार में बिठा दिया और एक बदमाश पीड़ित की वर्ना कार में सवार हो गया।

 

इसके बाद दोनों को कुछ दूर ले जाकर उनसे लूटपाट करने लगे। इस दौरान मोबाइल, सोने की चेन, कान की बाली लूट लिए। करीब दो घंटे तक कार में घुमाने के बाद दोनों पीड़ित को बाहरी दिल्ली के सिंघू बोर्डर पर छोड़ दिया। इसके बाद बदमाशों ने पीड़ित से कहा कि तुम्हारी कार जहां से लूटी थी वहीं पर मिल जाएगी। जब पीड़ित नजफगढ़ सब्जी मंडी पहुंचे तो वहां उनकी कार खड़ी थी।

इसके बाद द्वारका जिला पुलिस की स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर नवीन कुमार के नेतृत्व व एसीपी जोगिंदर सिंह जून के मार्गदर्शन में टीम बनाई गई। इसके बाद टीम घटनास्थल पर गई और आसपास के करीब दो किलोमीटर इलाके में लगे सौ सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली। इस दौरान क्रेटा कार का रजिस्ट्रेशन नंबर के बारे में पुलिस को पता चल गया।

रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर पुलिस कार के मालिक उदयवीर के घर पहुंची। उदयवीर देश से बाहर रहते हैं। वहां पर पूछताछ के बाद पुलिस ने लोनी से स्वप्निल व रवि शर्मा को गिरफ्तार किया। वहीं, दोनों से पूछताछ के आधार पर तीसरे आरोपित केशव सहगल को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान स्वप्निल ने बताया कि कतर में नौकरी छूटने के बाद वह भारत आया। इस दौरान कई जगह नौकरी का प्रयास किया, लेकिन वह कम पैसे में नौकरी करने को तैयार नहीं था। इसके बाद उसने लोगों को लूटने की योजना बनाई। इस कार्य में अपने दोस्त केशव सहगल व रवि को साथ लिया। इन्होंने पुलिसकर्मी बन लोगों को लूटने की योजना बनाई, जिससे कि लोगों को किसी प्रकार का शक नहीं हो। वारदात में प्रयुक्त क्रेटा कार सहित लूटे गए सामान पुलिस ने बरामद कर लिए हैं।

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *