सऊदी में हज के लिए पहुंचे घरेलू यात्री, बाहरियों के आने पर सख्त पाबंदी, जाने क्या है कारण

एक नजर पूरी खबर 

  • हज पहुंचा घरेलू यात्रियों का पहला जत्था
  • मदीना, रियाद, आभा, तबुक और जाजान से आए यात्री
  • बाहरियों के आने पर सख्त पाबंदी

सऊदी अरब (Saudi Arabia) ने शनिवार को घोषणा की कि जेद्दा के नए किंग अब्दुलअ जीज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर वार्षिक हज यात्रा के लिए देश के पांच शहरों से तीर्थयात्री पहुंच गए है। इस दौरान सऊदी अरब एजेंसी ने कहा है कि हज और उमराह मंत्रालय के अनुसार, मदीना, रियाद, आभा, तबुक और जाजान से आए यात्री सख्त स्वास्थ्य प्रक्रियाओं से गुजरे हैं और इसके बाद ही इन्हें हज के अंदर एंट्री दी जायेगी।

COVID-19: No Haj 2020 for Indian pilgrims as Saudi Arabia bans ...

घरेलू तीर्थयात्रियों तक सीमित है हज यात्रा

गौरतलब है कि कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के कारण किंगडम ने वर्तमान हज सीजन को घरेलू तीर्थयात्रियों तक ही सीमित रखने का फैसला किया है.पूरी हज यात्रा के दौरान तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए संबंधित संगठन पूरी तैयारी के साथ रहेंगे।

The haj, one of the five pillars of Islam - Times of India

अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा गहरा असर

बता दे मक्का के चैंबर ऑफ कॉमर्स के अनुसार, हज से सऊदी अरब की स्थानीय अर्थव्यवस्था को 5.3-6.9 बिलियन डॉलर तक की आय होती है। ऐसे में कोरोना महामारी के चलते हज यात्रा पर लगाई गई पाबंदी से अर्थव्यस्था पर काफी गहरा असर पड़ेगा। बता दे इससे पहले भी साल 2014 से 2016 के बीच, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य और कई अफ्रीकी देशों के मुस्लिम श्रद्धालुओं को इबोला वायरस के कारण हज से बाहर रखा गया था।

 

Leave a Reply