साउदी में तख्तापलट, शाही राजकुमार गिरफ़्तार, मिल सकती हैं मौत तक की सज़ा, नए राजा की तैयारी चल रही थी

सऊदी अरब के युवराज (क्राउन प्रिंस) मोहम्मद बिन सलमान का समर्थन नहीं करने के लिए दो बड़े शहजादों को गि’र’फ्तार किया जाना शाही परिवार के लिए चेतावनी लेकर आया है। शाही परिवार के दो करीबी लोगों ने यह बात कही।
 

 
उन्होंने कहा कि शहजादों की गिरफ्तारी इस बात का संदेश है कि शाही परिवार का कोई भी सदस्य अगर क्राउन प्रिंस के समर्थन में नहीं रहा तो किसी भी शहजादे की गिरफ्तारी मुमकिन है। क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को अपने पिता शाह सलमान के समर्थन से सत्ता के सभी प्रमुख आयामों पर पूर्ण राज प्राप्त है।
गिरफ्तारी से अवगत सऊदी अरब के एक व्यक्ति ने बताया कि शाह सलमान के भाई शहजादे अहमद बिन अब्दुल अजीज अल-सउद और भतीजे शहजादे मोहम्मद बिन नयेफ की शुक्रवार को गिरफ्तारी ऐसे व्यवहार के लिए हुई जो नेतृत्व के खिलाफ उकसाने वाला था।
दोनों शहजादे पूर्व में गृह मंत्री के पद पर काम कर चुके हैं और साम्राज्य के भीतर सुरक्षा एवं निगरानी का काम देखते थे।
शाही सरकार के करीबी एक व्यक्ति ने बताया कि यह कदम यह जानते हुए भी चौंकाने वाला था कि शहजादे मोहम्मद बिन नयेफ (60) पर करीब से नजर रखी जाने की चर्चा आम थी। शाह के बेटे द्वारा 2017 मध्य में उत्तराधिकारी के उम्मीदवार की दौड़ से उन्हें बाहर किए जाने के बाद उन पर करीबी नजर रखी जा रही थी। शहजादे अहमद (78) की गिरफ्तारी भी अनपेक्षित थी क्योंकि वह शाह के सगे छोटे भाई होने के साथ ही सत्तारूढ़ अल सउद परिवार के वरिष्ठ सदस्य भी हैं।

हालांकि उनके विचार 34 वर्षीय क्राउन प्रिंस से मेल नहीं खाते थे और वह उन चुनिंदा बड़े शहजादों में से एक थे जो उनका समर्थन करने से बचते रहे थे। सबसे पहले गिरफ्तारी की खबर वॉल स्ट्रीट जर्नल ने शाही सरकार से जुड़े अज्ञात सूत्रों के हवाले से दी थी जिनका कहना था कि शहजादे तख्तापलट की साजिश रच रहे थे जो युवराज को आगे बढ़ने से रोकता।
अखबार ने उसके बाद की खबरों में बताया कि शहजादों की गिरफ्तारी के बाद गृह मंत्रालय के कई अधिकारियों, वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों और तख्तापलट का समर्थन करने वाले संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया। एक सूत्र ने बताया कि ये गिरफ्तारियां शाही परिवार के उन सभी लोगों को एक संदेश है जो लोग युवराज का समर्थन नहीं करते कि उन्हें युवराज के आगे झुकना होगा।

About Lov Singh

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ.
Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a Reply