यूएई में खुले स्कूल, Staff सुनिश्चित करेगा Student’s और Teacher’s की सुरक्षा

कोरोनाबंदी के चलते लंबे समय से बंद सभी प्राइवेट स्कूलों को खोलने की परमिशन दे दी गई है। वहीं इस मामले पर अबू धाबी के स्कूल प्रिंसिपल ने कहा है कि नए शैक्षणिक वर्ष के लिए कैंपस लौटने से पहले सभी छात्रों और शिक्षकों के लिए कोविड-19 परीक्षण सुरक्षा सुनिश्चित करेगा साथ ही इसका पूरा ब्यौरा भी रखा जायेगा।

बता दे अबू धाबी में भारतीय स्कूल के प्रिंसिपल नीरज बर्गवा ने कहा कि “स्कूल परिसर में लौटने से पहले सभी छात्रों, शिक्षकों और स्कूल के अन्य कर्मचारियों को कोविड-19 टेस्ट से गुजरना बहुत ज़रूरी है।” टेस्ट के बाद ही सभी की स्कूल में वापसी सुनिश्चित की जायेगी।

NAT 200722 AD SCHOOL FILE5-1595427527563

गौरतलब है कि गर्मियों की छुट्टियां खत्म होने के बाद प्राइवेट स्कूल द्वारा लंबे विचार-विमर्श के बाद यह फैसला किया गया। इसके साथ ही स्कूलों को दोबारा खोलने के फैसले के तहत सभी की स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कई बड़े फैसले भी किए गए। इसके तहत सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना, साफ-सफाई को सही रूप से सुनिश्चित करना, बच्चों को कोविड-19 के प्रति जागरूक करना और साथ ही समय समय पर कोविड-19 के टेस्ट की व्यवस्था करना भी रखा गया है।

स्कूलों के लिए जारी की गई गाइडलाइन

“अबू धाबी शिक्षा और ज्ञान विभाग (Adek) ने अभी तक यह साफ नहीं किया है कि कोविड-19 के टेस्ट (परीक्षण) कैसे आयोजित किए जाएंगे, लेकिन हम यह सुनिश्चित करेंगे कि माता-पिता के सहयोग से इसे लागू किया जाए।” उन्होंने कहा कि “हम यह सुनिश्चित करने के लिए कि हमारे सभी छात्र, शिक्षक और प्रशासनिक कर्मचारी सुरक्षित हो और आगे भी स्वस्थ्य रहे। साथ ही उन्होंने बताया कि वह एडेक द्वारा जारी किए गए सभी दिशानिर्देशों को लागू करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।”

Abu Dhabi Public School Teachers 'Receive Big Pay Increase'

तैयारियों में जुटे सभी स्कूल

बता दे राजधानी के सबसे पुराने स्कूलों में से एक, अबू धाबी के भारतीय स्कूल में 5,000 स्टूडेंड हैं। इस स्कूल के प्रिंसिपल बर्गवा ने कहा कि सभी उपायों को लागू करना “छात्रों की संख्या को देखते हुए” चुनौतीपूर्ण हो सकता है “लेकिन स्कूल इस बात का खास ध्यान रखते हुए देश-दुनिया के सामने एक उपयुक्त मॉडल स्थापित करेगा”।

वहीं इस मामले पर मयूर प्राइवेट स्कूल की वाइस प्रिंसिपल योगिता भगनिया ने कहा कि टीम ने गर्मी की छुट्टी के बाद कैंपस को फिर से खोलने की तैयारी शुरू कर दी है। “हम उनकी चिंताओं को समझने के लिए माता-पिता और शिक्षकों के साथ बैठकें करने जा रहे हैं और नए स्कूल वर्ष शुरू होने से पहले हम दिशानिर्देशों को कितनी अच्छी तरह लागू कर सकते हैं। स्कूल के दोबारा खुलने पर हम उन्हें पूरे सिस्टम के माध्यम से भी ले जाएंगे।” इसके तहत हम सभी लोगों के स्वास्थय का पूरी तरह ध्यान रखेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *