अबू धाबी के फ्लैट में मृत पाए गए भारतीय दंपति, मौत के कारणों का अब तक नहीं हुआ खुलासा

भारतीय दंपति जनार्दन पट्टियरी और मिनिजा अबू धाबी शहर के अपने फ्लैट में मृत पाए गए हैं। बता दे यह दोनों केरल राज्य से लगभग 18 साल पहले अबू धाबी आए थे और तब से यहीं रह रहे थे।

57 वर्षीय पैटीरी ने एक चार्टर्ड एजेंसी में और 52 वर्षीय उनकी पत्नी बतौर चार्टर्ड अकाउंटेंट एक ऑडिट फर्म में काम करती थी। वहीं इनकी मौत पर एक साथ मे काम करने वाले इनके दोस्त ने बताया कि कोझिकोड जिले से आए दोनों लोगों  काफी साधारण जीवन जीते थे, लेकिन हाल ही में जनार्दन पट्टियरी अपनी नौकरी खो दी थी, जिसके बाद से वह परेशान थे।

तो वहीं दूसरे दोस्त ने बताया कि नौकरी जाने के बाद उन्होंने अपनी कार भी बेच दी थी। उन्होंने कहा कि दोनों पति-पत्नी का स्वभाव बेहद शांत था।उनकी कभी किसी से कोई अनबन नहीं थी।

बता दे दंपति का इकलौता बेटा अबू धाबी स्कूल में पढ़ा था और अब भारत के बैंगलोर में काम करता है। दरअसल गुरुवार शाम को उनके बेटे ने पिता के दोस्त कोफोन किया और कहा उनके माता-पिता पिछले चार दिनों से कॉल का जवाब नहीं दे रहे थे। जिसके बाद उन्होंने घर जाकर देखा तो उनके शव उनके घर में पड़े हुए थे। इस बात की सूचना उन्होंने उनके बेटे और स्थानीय पुलिस को दी। वहीं अब एक सामाजिक कार्यकर्ता निकायों के प्रत्यावर्तन के मामले का जांच पड़ताल कर रहा है।

Leave a Reply