अरब अमीरात : अब तक एक भी कोरोना का मामला नहीं आया, इमाम ने बताया खुदा की रहमत

जानलेवा महामारी का अंत जल्द से जल्द हो

हालांकि कोरोना वैक्सीन आ चुकी है और लोगों को ठीके लगने शुरू भी हो चुके हैं। फिर भी कोरोना को लेकर दहशत अभी भी कायम है। परेशान दुनिया अब यही चाहती है कि इस जानलेवा महामारी का अंत जल्द से जल्द हो।

 

प्रार्थना के लिए मस्जिद को खोला गया है

बता दें कि पिछले आठ महीनों से कोरोना के खतरे के मध्यनज़र मस्जिद को बंद रखा गया था। लेकिन पिछले तीन सप्ताह से शुक्रवार को प्रार्थना के लिए मस्जिद को खोल दिया गया है तब से एक भी कोरोना मामला देखने को नहीं मिला है।

 

कोरोना से बचने के लिए दिए गए उपायों को अपनाना ही होगा

Sheikh Asadullah Mohammed, एक इमाम, ने कहा कि अल्लाह की रहमत के लिए सबसे पहले कोरोना से बचने के लिए दिए गए उपायों को अपनाना ही होगा। मास्क पहनना, सामाजिक दूरी का पालन करना और दुआ के लिए अपना खुद का मैट इस्तेमाल करना कोरोना से बचने में मददगार साबित होगा।

 

अल्लाह के घर में इबादत करना सुकून भरा होता है

मस्जिद में दुआ कर हर इंसान सुरक्षित, संतुष्ट और ऊर्जावान महसूस करता है। अल्लाह के घर में इबादत करना सुकून भरा होता है। बिना मास्क के प्रवेश नहीं, हैंड sanitisers का इस्तेमाल, जैसे आदि नियमों का पालन लोग ख़ुशी से कर रहें हैं। साथ ही लोग एक दूसरे पर भी नज़र बनाए रखते हैं, ताकि नियमों का उल्लंघन न होने पाए

 

About Satyam Kumari

Journalist from Bihar. Associated with Gulfhindi.com since 2020. Can be reached at hello@gulfhindi.com with Subject line "Reach Satyam kumari."

Leave a Reply