पहले मुश्किल थी जिंदगी, अब भारतीय प्रवासी को मिला गोल्डन वीजा, 10 साल तक कोई परेशानी नहीं

62 वर्षीय Satish Jaisinghani 10 वर्षीय गोल्डेन वीजा प्राप्त हुआ

Al Ain के भारतीय प्रवासी 62 वर्षीय Satish Jaisinghani 10 वर्षीय गोल्डेन वीजा प्राप्त हुआ है। उनका एक medical supplies firm है। वह बताते है कि अबू धाबी में sales representative के तौर पर उन्होंने काम करना शुरू किया था, उन्हें बहुत कम सैलरी मिलती थी लेकिन आज वह कई कंपनी के मालिक हैं।

2012 में उन्होंने Kiwi Medical Supplies खोला

उन्होंने बताया कि इतनी कम तनख्वाह में जिम्मेदारियों को पूरा करना मुश्किल था। 2012 में उन्होंने Kiwi Medical Supplies खोला। कोरोना महामारी के दौरान medical surgical resources की वैश्विक कमी को पूरा करने के लिए उन्होंने एक यूनिट भी खोला है।

यूएई सरकार को गोल्डन वीजा के सम्मान के लिए उन्होंने शुक्रिया कहा

उन्होंने फ्रंटलाइन वर्कर की मदद भी की है। उन्होंने बताया कि सच्ची लगन और मेहनत से जिंदगी में कोई भी मनचाहा मुकाम पाया जा सकता है। यूएई सरकार को गोल्डन वीजा के सम्मान के लिए उन्होंने शुक्रिया अदा किया है।

 

About Satyam Kumari

Journalist from Bihar. Associated with Gulfhindi.com since 2020. Can be reached at hello@gulfhindi.com with Subject line "Reach Satyam kumari."

Leave a Reply