अरब में नौकरियों के लिए ऐलान, प्रवासी अब आए, अरब अमीरात में नौकरियों की कमी नही, हम पटरी पर हैं

एक नजर पूरी खबर

  •  महामहिम शेख मोहम्मद का बड़ा बयान
  • डिजिटल अर्थव्यवस्था देश की अगली प्राथमिकता
  • डिजिटल अर्थव्वस्था की और बढ़ने के खुलेंगे रोजगार के अवसर

Reparation Law

वैश्विक महामारी कोरोना के चलते दुनिया भर के ज्यादातर देश इन दिनों आर्थिक मंदी की मार झेल रहे हैं। वही कोरोना से जारी जंग के बीच सभी देश धीरे धीरे कर आर्थिक अर्थव्यवस्था में सुधार की ओर वापस लौट रहे हैं। इसी कड़ी में यूएई के महामहिम शेख मोहम्मद ने भी देश की आर्थिक व्यवस्था को सबसे बड़ी प्रायोरिटी बताया है।

Regional & Global Economic

गौरतलब है कि यूएई के उप-राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री और दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने कहा कि यूएई की अगली प्राथमिकता राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में डिजिटल क्षेत्र के योगदान को बढ़ाना और स्मार्ट बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देना है। शेख मोहम्मद ने आगे कहा, यह परिस्थितियों की परवाह किए बिना व्यापार निरंतरता सुनिश्चित करने के लिए यूएई सरकार की डिजिटल तत्परता को बढ़ाएगा।
Sheikh Mohammed's

उन्होंने कहा कि “डिजिटल अर्थव्यवस्था नए आर्थिक क्षेत्रों के विकास और विकास के लिए एक महत्वपूर्ण उत्प्रेरक है, और हमारी अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धात्मकता और भविष्य की अर्थव्यवस्था में वृद्धि करती है,” उन्होंने डिजिटल अर्थव्यवस्था, एआई और रिमोट वर्किंग मंत्रालय के भविष्य की कार्य योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा आवेदन पर चर्चा की और बताया कि इससे ना सिर्फ देश डिजिटल वल्ड की ओर बढ़ेगा बल्कि साथ ही रोजगार कॆे अवसर भी खुलेंगे।

Dubai's economy continues

इस दौरान उन्होंने AI, डिजिटल अर्थव्यवस्था और दूरस्थ कार्य अनुप्रयोगों में मंत्रालय की भविष्य की कार्य योजनाओं की समीक्षा की, क्योंकि देश सरकारी कामकाज पोस्ट कोविड-19 को विकसित करने के लिए तैयार है। साथ ही जो व्यवसायों और आपूर्ति श्रृंखलाओं के प्रबंधन में डिजिटल अर्थव्यवस्था और स्मार्ट अनुप्रयोग के महत्व को देखते हुए स्थानीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने की भी बात कही।

शेख मोहम्मद ने कहा कि 2019 में स्थानीय सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के लिए डिजिटल अर्थव्यवस्था का योगदान 4.3 प्रतिशत तक पहुंच गया, जहां इस विषय को संभालने और संख्या को दोगुना करने के लिए एक समर्पित मंत्री नियुक्त किया गया था। ऐसे में अब डिजिटल इकनौमी को बढ़ावा देना देश की पहली जरूरत है।

Leave a Reply