सऊदी से चार महीने बाद आया कामगार का शव, परिवार में अकेला कमाने वाला था वह

एक भारतीय कामगार की मृत्यु सऊदी अरब में हो गई थी। लेकिन उसका शव भारत नहीं पहुंच सका था। भारतीय कामगार का नाम तालिब अली था। 40 वर्षीय तालिब अली की मौत सऊदी में एक दुर्घटना में हो गई थी। वह अपने घर में अकेला कमाने वाला सदस्य था।

उसकी मौत की खबर सुनकर परिवार वालों के बीच एक मातमी सन्नाटा छा गया। हालांकि परिवार वाले उसके शव को मंगवाने का प्रयास में लगे रहे। लेकिन बीच में कोरोना वायरस के कारण फैली महामारी के कारण तालिब की बॉडी को वहीं रख दिया गया।

करीब चार महीने के बाद शुक्रवार को तालिब का मृत शरीर भारत पहुंचा। वह गोरखपुर के पिपरा कनक गांव का रहने वाला था। वह सऊदी की एक कंपनी में काम करते थे। उनकी मौत 14 फरवरी को हुए एक हादसे में हो गई थी।

Leave a Reply